प्रतीकात्मक फोटो, साभार : गूगल

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में शनिवार को सुरक्षा बलों तथा आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ में दो आतंकवादी और उनका एक ‘‘कट्टर’’ साथी मारा गया। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षाबलों को दक्षिण कश्मीर में अवंतीपुरा के गोरीपुरा इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की सटीक सूचना मिली थी जिसके बाद उन्होंने शनिवार तड़के इलाके की घेराबंदी की और तलाश अभियान चलाया।

उन्होंने बताया कि तलाश अभियान के दौरान उस समय मुठभेड़ शुरू हो गई जब आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोलियां चलानी शुरू की जिसके बाद सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की। अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ में दो आतंकवादी और आतंकवादियों का एक ‘‘कट्टर’’ साथी मारा गया। उन्होंने बताया कि इलाके में तलाशी चल रही है।

इसके पहले शोपियां जिले में बुधवार को सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में चार आतंकवादी मारे गए थे। सुरक्षाबलों को सूचना मिली थी कि इलाके के मेलहूरा गांव में आतंकी मौजूद हैं। इस सूचना पर सेना की 55 राष्ट्रीय राइफल्स, सीआरपीएफ और एसओजी की टीम ने गांव की घेराबंदी कर सर्च ऑपरेशन चलाया था।

घेरा सख्त होता देख एक मकान में छिपे आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर फायरिंग शुरू कर दी। पहले तो सुरक्षा बलों ने उन्हें समर्पण के लिए कहा। इसके बाद भी आतंकियों ने गोलीबारी जारी रखी तो सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई की। इससे मुठभेड़ शुरू हो गई। इसमें दो आतंकी मारे गए थे।

इसके पहले जम्मू-कश्मीर के शोपियां जिले के ही कीगाम में बीते 17 अप्रैल को आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़ हो गई थी। इस दौरान सेना ने दो आतंकवादियों को मार गिराया था। यहां भी आतंकवादियों की मौजूदगी के बारे में विशिष्ट सूचना के बाद चलाया गया तलाशी अभियान एक मुठभेड़ में बदल गया था जिसके बाद आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की इसके बाद जवाबी कार्रवाई की गई थी। गोलीबारी में दो आतंकवादी मारे गए थे।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 1 =