श्रीनगर। कश्मीर में दो अलग-अलग अभियानों में सुरक्षाबलों ने जैश-ए-मोहम्मद के दो शीर्ष आतंकवादी और हिजबुल मुजाहिदीन के तीन सहयोगियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने यहां बताया कि संयुक्त बलों ने सुबह बारामूला के पट्टन इलाके में जैश ए मोहम्मद के दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया है। ये दोनों पंचायती राज संस्थान के सदस्यों और गैर स्थानीय लोगों को निशाना बनाने की योजना बना रहे थे। बारामूला पुलिस ने कहा, “श्रीनगर की ओर आ रहे एक वाहन में दो आतंकवादियों की छिपे होने की खुफिया सूचना मिली थी। जिसके बाद सेना के 29 आरआर, जेकेपी और एसएसबी की मोबाइल वाहन जांच चौकियों को राष्ट्रीय राजमार्ग के साथ विभिन्न स्थानों पर तैनात किया गया।

सुरक्षा बलों ने एक तेज रफ्तार टावेरा को रोका तो वाहन रुकते ही चालक और सह-चालक दोनों वाहन से कूदकर भागने गए लेकिन संयुक्त बलों ने दोनों का पीछा किया और दोनों को पकड़ लिया गया।”दोनों की पहचान अकिब मोहम्मद मिर औऱ दानिश अहमद दार के रूप में हुई है। दोनों सोपोर का रहने वाला है। पुलिस ने बताया कि जब्त वाहन की तलाशी से दो चीनी पिस्तौल, दो पिस्तौल मैगजीन, 10 राउंड गोला बारूद और दो चीनी ग्रेनेड समेत आपत्तिजनक सामग्री बरामद हुई है।

उन्होंने कहा कि शुरुआती जांच में पता चला है कि दोनों आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से संबंध हैं और पंचायत प्रतिनिधियों, अल्पसंख्यक सदस्यों और बाहरी लोगों को निशाना बनाना चाहते थे। पुलिस ने कहा कि आतंकवादियों की गिरफ्तारी से उनकी बड़ी साजिशें नाकाम हो गयी। एक और अभियान में, पुलिस ने आतंकवादी समूह के तीन सहयोगियों को गिरफ्तार करके हिजबुल मुजाहिदीन के एक आतंकवादी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है।

ये पिछले महीने दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में एक पंच की हत्या में शामिल थे। दो मार्च को आतंकवादियों ने कुलगाम के कोलपोरा श्रुंदू इलाके में निर्दलीय पंच मोहम्मद याकूब डार की गोली मारकर हत्या कर दी थी। बयान में कहा गया है, कुलगाम पुलिस ने इस अपराध में शामिल तीन आतंकवादी सहयोगियों को गिरफ्तार किया और हथियार और गोला-बारूद भी जब्त किया। मामले की जांच जारी है और जांच के आधार पर और गिरफ्तारियां और बरामदगी के आसार है। इस जघन्य अपराध में शामिल आतंकवादियों को नेस्तनाबूद करने के प्रयास जारी हैं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × one =