इंदौर। मां अहिल्या की नगरी और देश के सबसे स्वच्छ शहर इंदौर में महिला लेखन को रेखांकित करने के लिए वामा साहित्य मंच तथा घमासान डॉट कॉम द्वारा एक अत्यंत महत्वपूर्ण और सार्थक आयोजन 14 और 15 मई को इंदौर के अभय प्रशाल में आयोजित होने जा रहा है। यह जानकारी देते हुए साहित्य समागम की चेयर पर्सन पदमा राजेंद्र तथा साहित्य सम्मेलन की सचिव ज्योति जैन एवं घमासान कॉम की पीनल पाटीदार ने बताया कि पूरे देश का एकमात्र यह अंतरराष्ट्रीय महिला साहित्य समागम है, जिसमें देश की जानी-मानी लेखिकाओं के साथ विभिन्न देशों की लेखिकाएं भी अपनी उपस्थिति दर्ज करवा रही हैं। बीते वर्षों में इस आयोजन में उषा किरण खान, डॉ अचला नागर, सुधा अरोड़ा, नेहा शरद जैसी सशक्त हस्ताक्षर इस आयोजन में (वर्धा) भागीदारी कर चुकी हैं।

इस वर्ष देश की जानी-मानी व्यंग्यकार सूर्यबालाजी, राजकुमारी गौतम (बेल्जियम) शादुर्ला नोगजा (सिंगापुर), प्रभा कटियार (, देहरादून) मनीषा कुलश्रेष्ठ (जयपुर) जया सरकार (पुणे) क्षमा कौल ( जम्मू-कश्मीर) समीक्षा तेलंग ( पुणे ) कोपल जैन (बैंगलोर) कांता राय (भोपाल) अंजली चिंतामणि (मॉरीशस) रीना मेनारिया (उदयपुर) नूतन पांडे ( केंद्रीय हिंदी निदेशालय नई दिल्ली) श्वेता दीप्ति (नेपाल) तथा डॉक्टर अनुपमा जैन संयुक्त संघ अखिल भारतीय शाह बेहराम बग सोसायटी (मुंबई) की एडिशनल ‘रिप्रेजेंटेटिव भी इस आयोजन में अपनी उपस्थिति दर्ज करवा रही हैं।

साथ ही इस बार विशेष रूप से एक पुरुष सत्र रखा जाएगा जिसमें डॉ. दीपक पांडेय (सहायक निदेशक केंद्रीय हिंदी सचिवालय दिल्ली), डॉ. रामा तक्षक (नीदरलैंड), डॉ राजेंद्र प्रसाद मिश्र (वर्धा) विशेष रूप से उपस्थित रहेंगे, जिसका विषय रहेगा स्त्री लेखन पुरुषों की दृष्टि से । अहिल्या शक्ति , सम्मान से लेखिका कंचन सिंह चौहान लखनऊ को सम्मानित किया जाएगा।


images - 2022-05-14T125228.347

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × 1 =