विद्यालय प्रबंध समिति के सचिवों और अध्यक्ष/उपाध्यक्षो का प्रशिक्षण ब्लॉक संसाधन केंद्र कुठौंद, मदारीपुर में सपन्न

मदारीपुर, कुठौंद, जालौन उत्तर प्रदेश । विद्यालय प्रबंध समिति के सचिवों और अध्यक्ष/उपाध्यक्षो का प्रशिक्षण मदारीपुर के ब्लॉक संसाधन केंद्र में सफलता पूर्वक सपन्न हुआ। इस प्रशिक्षण में प्राथमिक विद्यालय और उच्च प्राथमिक विद्यालय के प्रधान अध्यापकों (सचिव ), अध्यक्ष/उपाध्यक्षों को प्रशिक्षण के लिये बुलाया गया था। यह प्रशिक्षण दो चरणों मे दिया गया। प्रथम चरण में उच्च प्राथमिक विद्यालय के विद्यालय प्रबंध समिति के सचिवों और अध्यक्ष/उपाध्यक्षो को प्रशिक्षित किया गया। दूसरे चरण में प्राथमिक विद्यालय के प्रबंध समिति के सचिवों और अध्यक्ष/उपाध्यक्षो को प्रशिक्षण प्रदान किया गया।

ईश्वर वंदना के बाद प्रशिक्षण के प्रथम सत्र में आये हुए सभी सदस्यों का परिचय प्राप्त किया गया और सन्दर्भदाताओं ने भी अपना परिचय दिया। सन्दर्भदाता राजकुमार शर्मा ने एक प्रेरणा गीत के माध्यम से प्रशिक्षण में रोचकता का संचार किया। दूसरे सत्र में देवेंद्र सिंह ने बाल अधिकारों एवं बाल अधिकारों का संरक्षण किस प्रकार किया जा सकता है इस पर चर्चा की। निशुल्क बाल शिक्षा अधिकार अधिनियम 2009 में निहित प्रावधानों पर चर्चा की। विद्यालय प्रबंध समिति की संरचना, कार्यकाल, गठन की प्रक्रिया, कार्य और दायित्व पर प्रकाश डाला।

तीसरे सत्र में डॉ. कमलेंद्र कुमार ने बताया कि किस प्रकार समित को सक्रिय रखा जा सकता है। विद्यालय प्रबंध समिति अगर सक्रिय नहीं है तो विद्यालय का विकास अवरुद्ध हो जाता है। हाउस होल्ड सर्वे आदि पर भी चर्चा की गई। चौथे सत्र में प्रबंध समिति के वित्तीय दायित्व को सन्दर्भदाता राजकुमार शर्मा ने बताया। पांचवे सत्र का संचालन डॉ. कमलेंद्र कुमार ने किया। इस सत्र में बताया गया कि जिस प्रकार हम आप सभी को ट्रेनिंग दे रहे है उसी प्रकार आपको भी अपने-अपने विद्यालय की प्रबंध समिति के बाकी सदस्यों को प्रशिक्षण देना है। प्रशिक्षण की तिथि की सूचना खण्ड शिक्षा अधिकारी को उपलब्ध करानी है। साथ ही खण्ड शिक्षा अधिकारी, सन्दर्भदाता, जिला समन्वयक आदि को भी विद्यालय स्तर पर की जा रही ट्रेनिंग में आमंत्रित करें।

अंतिम सत्र में खण्ड शिक्षा अधिकारी महेश शर्मा ने कहा कि हर हाल में प्रबंध समित को सक्रिय करें और आये हुए अध्यक्षों ने कहा कि हमारे प्रधान अध्यापकों का सहयोग करें और डीबीटी की धनराशि का प्रयोग बच्चों के लिये स्वेटर, जूता, मोजा, बैग तथा स्कूल ड्रेस क्रय करने में करें। अंत मे आये हुए सभी सदस्यों का आभार व्यक्त किया। प्रशिक्षण में प्रमोद दुबे, रवि राठौर, कमलेश मिश्रा, श्याम जी त्रिपाठी, प्रमोद, दयानंद वर्मा, जगत सिंह, अर्चना निगम, अजयसिंह राजावत, अजय पांडेय, ध्यान सिंह, चंद्रभूषण शाक्य, महाराज सिंह, वीरेंद्र आदि उपस्थित रहे।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve + sixteen =