गौ तस्करी मामले में CBI कार्यालय में हाजिर हुए टीएमसी सांसद देव

कोलकाता। बांग्ला फिल्म एक्टर और टीएमसी के सांसद देव उर्फ दीपक अधिकारी मंगलवार को गौ तस्करी मामले में कोलकाता के निजाम पैलेस स्थित सीबीआई कार्यालय में हाजिर हुए। बांग्ला फिल्म अभिनेता और टीएमसी सांसद देव गौ तस्करी मामले में एक गवाह के रूप में पूछताछ के लिए मंगलवार की सुबह सीबीआई कार्यालय निजाम पैलेस पहुंचे। उन्हें इस मामले में सीबीआई ने तलब किया था और उन्हें मंगलवार को पेश होने के लिए कहा गया था। चूंकि वह काफी व्यस्त रहते हैं, इसलिए यह सोचा जा रहा था कि वह हाजिर नहीं होंगे।

इसके बजाय उनके वकील मिल सकते हैं। हालांकि एक्टर मंगलवार को निजाम पैलेस में खुद नजर आए और फिलहाल सीबीआई के अधिकारी उनसे पूछताछ कर रहे हैं। सीबीआई ने पहले कहा था कि वह इस मामले में तृणमूल सांसद और अभिनेता दीपक अधिकारी उर्फ ​​देव से पूछताछ करना चाहती है। केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने बुधवार को देव को इस आशय का नोटिस भेजा था। नोटिस में देव को 15 फरवरी को सुबह 11 बजे तक निजाम पैलेस स्थित सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी के कोलकाता कार्यालय में रिपोर्ट करने को कहा गया था।

उन्होंने नोटिस का पालन किया और पेश हुए। अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि देव और पशु तस्करी मामले के बीच क्या संबंध है। सीबीआई के नोटिस में भी इस संबंध में कुछ नहीं कहा गया। हालांकि सूत्रों ने बताया कि पशु तस्करी मामले में विभिन्न गवाहों से पूछताछ के दौरान देब का नाम सामने आया था। हालांकि तृणमूल सांसद देव ने नोटिस पर कोई टिप्पणी नहीं की थी। सीबीआई सूत्रों का कहना है कि छह महीने पहले ही गौ तस्करी मामले में देव के शामिल होने की बात आई थी, लेकिन उसके पास कुछ ठोस प्रमाण नहीं थे।

उसके बाद जांच के सिलसिले में इस मामले में देव के शामिल होने के प्रमाण मिले हैं। उसके बाद ही अभिनेता को तलब किया गया है। पिछले दिनों मवेशी तस्करी मामले में मुख्य आरोपित इनामुल हक को सुप्रीम कोर्ट ने जमानत दे दी है। इनामुल मवेशियों की सीमा पार बांग्लादेश में तस्करी करने का मुख्य आरोपित है। मामले में एक बीएसएफ कमांडेंट को भी गिरफ्तार किया गया था। आरोप है कि तस्करी में घूस की रकम राजनीतिक दलों और स्थानीय अधिकारियों को दी जाती थी।

सीबीआई ने मवेशी तस्करी मामले में पिछले वर्ष छह फरवरी और 21 फरवरी को चार्जशीट दाखिल की थी। बीएसएफ कमांडेंट समेत मामले के अन्य आरोपितों को जमानत मिल चुकी है। इनामुल हक तस्करी गिरोह का सरगना है। इस मामले में बीएसएफ कमांडेंट, कस्टम्स आफिसर, स्थानीय पुलिस और अन्य लोग मवेशियों की सीमा पार तस्करी करवाने में संलिप्त हैं।

सीबीआई के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार अभिनेता देव ने 2017-18 में गौ तस्करी के मामले के मुख्य आरोपी इनामुल हक से कुछ लाख नकद और एक घड़ी सहित कई उपहार दिये थे। एनामुल होक ने सीबीआई को दिए एक बयान में यह बात कही थे बयान के मुताबिक, देव को पूछताछ के लिए तलब किया गया है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × 5 =