अहमदाबाद। गुजरात के मोरबी ज़िले में बुधवार को एक नमक फ़ैक्टरी की दीवाल गिरने से पांच महिलाओं समेत कम से कम 12 कामगारों की मौत हो गयी और कई अन्य घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि अहमदाबाद से क़रीब 180 किमी दूर हलवद शहर के औद्योगिक इलाक़े हलवद जीआइडीसी स्थित सागर सॉल्ट फ़ैक्टरी में आज दोपहर क़रीब 12 बजे कामकाज के दौरान अचानक इसकी विशाल दीवार गिर गयी। वहां मौजूद कई महिला कामगारों समेत 30 से अधिक श्रमिक इसके मलबे में दब गए।

अब तक 12 के मरने की पुष्टि हो गयी है और यह संख्या बढ़ने की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता। घायलों को निकटवर्ती अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल ने इस दुर्घटना पर गहरा दुःख जताया है। श्री पटेल ने मृतकों के आश्रितों के लिए चार-चार लाख और घायलों के इलाज के लिए 50 हज़ार रुपए की राहत राशि की घोषणा भी की है।

प्रधानमंत्री ने मुआवजे का किया ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात के मोरबी में हुए हादसे पर दुख जाहिर करते हुए इस घटना में जान गंवाने वाले मजदूरों के परिवारों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त की है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री की तरफ से इस घटना में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये के मुआवजा देने का भी ऐलान किया गया है। घटना पर दुख जाहिर करते हुए प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा, मोरबी में दीवार गिरने से हुआ हादसा हृदय-विदारक है। दुख की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूं। स्थानीय अधिकारी प्रभावितों को हर संभव सहायता प्रदान कर रहे हैं। प्रधानमंत्री ने मुआवजे का ऐलान करते हुए अपने अगले ट्वीट में कहा, मोरबी में हुए हादसे में जान गंवाने वाले लोगों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2-2 लाख रुपये दिए जाएंगे। घायलों को 50 हजार रुपये दिए जाएंगे।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − 10 =