सुस्त पड़ी सुधार की रफ्तार, तो सक्रिय हुई खास जंगल मौजा कमेटी

तारकेश कुमार ओझा, खड़गपुर : शहर के खास जंगल मौजा का मसला एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है । भू सुधार की रफ्तार सुस्त पड़ जाने से नाराज खड़गपुर खास जंगल मौजा लैंड ऑनर्स कमेटी की ओर से शुक्रवार को भूमि सुधार अधिकारी को स्मार पत्र सौंपा गया। जिसके तहत शासन का ध्यान मसले से जुड़ी विसंगतियों की ओर आकृष्ट कराने की कोशिश की गई। स्मार पत्र सौंपने दफ्तर पहुंचे कमेटी के पदाधिकारियों में संयोजक चंचल चक्रवर्ती , सुभाष अरोरा , एसपी अधिकारी, विमल जैन तथा वैद्य नाथ बनर्जी आदि शामिल रहे । उन्होंने कहा कि महकमे से मामले में त्वरित कार्रवाई का आश्वासन मिला है । फिलहाल वे शासन के सकारात्मक रुख इंतजार करेंगे।

बता दें कि शहर के खास जंगल मौजा की सरकारी लीज की अवधि समाप्त हो जाने की वजह से खरीदा , ढेकिया और मलिंचा इलाके के करीब साढ़े तीन हजार मकान मालिक मुसीबत में फंस गए थे । क्योंकि उनकी वैद्ता खतरे में पड़ गई थी । इसके बाद प्रभावित मकान मालिकों ने कमेटी का गठन कर संघर्ष शुरू किया । राजनीतिक नेताओं के हस्तक्षेप से शासन हरकत में आया और मकान मालिकों को रायती पर्चा देने की प्रक्रिया शुरू हुई । कमेटी के पदाधिकारियों ने कहा कि अधिकांश मकान मालिकों को पर्चा मिल चुका है । लेकिन करीब 800 मकान मालिकों को अब भी इसका इंतजार है । जिससे वे बेहद परेशान हैं। स्मार पत्र में मामले में त्वरित कार्यवाही की अपील की गई है ।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty − fifteen =