आसनसोल लोस व बालीगंज विस क्षेत्रों में थमा चुनाव प्रचार का शोर

फोटो साभार : गूगल

कोलकाता। बंगाल की आसनसोल लोकसभा (लोस) व बालीगंज विधानसभा (विस) क्षेत्रों में चुनाव प्रचार का शोर रविवार शाम को थम गया। दोनों सीटों पर 12 अप्रैल को उपचुनाव होंगे और 16 अप्रैल को वोटों की गिनती होगी। आसनसोल लोस सीट से जाने-माने बॉलीवुड अभिनेता व वरिष्ठ राजनेता शत्रुघ्न सिन्हा तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर उम्मीदवार हैं जबकि भाजपा ने वहां अपनी कद्दावर नेत्री अग्निमित्रा पाल को उतारा है। माकपा ने पार्थ मुखर्जी और कांग्रेस ने प्रसेनजीत पुइतांडी को खड़ा किया है।

अग्निमित्रा पिछले विधानसभा चुनाव में आसनसोल दक्षिण सीट से जीती थीं। उन्होंने तृणमूल की सायोनी घोष को मात दी थी। अग्निमित्रा एक बार फिर खुद को आसनसोल की बेटी बताकर वोट मांग रही हैं। शत्रुघ्न सिन्हा भी अपने स्टारडम के बल पर चुनाव जीतने को पूरा जोर लगा रहे हैं। उनके समर्थन में पिछले दिनों तृणमूल के राष्ट्रीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने भी प्रचार किया था।

दूसरी तरफ बालीगंज विस सीट पर बाबुल सुप्रियो तृणमूल प्रत्याशी हैं। बाबुल कुछ समय पहले ही भाजपा छोड़कर तृणमूल में शामिल हुए हैं। बाबुल आसनसोल से दो बार भाजपा सांसद रहे हैं। उन्होंने भाजपा छोडऩे के साथ ही सांसद पद से भी इस्तीफा दे दिया था। उसी कारण आसनसोल लोस सीट रिक्त हुई और वहां उपचुनाव हो रहा है। बालीगंज में बाबुल का मुकाबला भाजपा की केया घोष, कांग्रेस की सायरा शाह हलीम और कांग्रेस के जनाब कमरुज्जमन चौधरी से है।

सायरा बंगाल विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष दिवंगत हाशिम अब्दुल हलीम की बहू और जाने-माने अभिनेता नसीरुद्दीन शाह की भतीजी हैं। कुछ दिन पहले नसीरुद्दीन शाह ने इंटरनेट मीडिया के जरिए अपनी भतीजी के पक्ष में चुनाव प्रचार किया था। बालीगंज विस सीट तृणमूल के वरिष्ठ नेता व दिवंगत मंत्री सुब्रत मुखर्जी के निधन की वजह से रिक्त हुई थी।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

2 × 3 =