ऑनलाइन अवतार में प्रस्तुत किया जायेगा बहुप्रतीक्षित ख़ज़ाना ग़ज़ल महोत्सव

कोविड-19 महामारी की वजह से लागू तमाम तरह की बंदिशों (जिनमें सामाजिक व सांस्कृतिक बंदिशें भी लागू हैं) के असर से संगीत जगत भी अछूता नहीं है. मगर ‘शो मस्ट गो ऑन’ के सिद्धांत पर यकीन रखते हुए द कैंसर पेशंट्स एड एसोसिएशन और पैरेंट्स एसोसिएशन थेलेस्सेमिक यूनिट ट्रस्ट ने ग़ज़लों के अनूठे महोत्सव ख़ज़ाना के ज़रिए फ़ंड जुटाने के अपने वार्षिक कार्यक्रम का आयोजन इस बार ऑनलाइन करने का फ़ैसला लिया है. ग़ज़ल गायिकी के कद्रदान इस अनूठे कार्यक्रम का लुत्फ़ वर्चुअल तौर पर इस साल 19 और 20 दिसंबर को रात 8.00 बजे से उठा सकेंगे.

कैंसर और थेलेस्सिमिक पेशंट्स के लिए फ़ंड की व्यवस्था करने के लिए आयोजित किये जा रहे ऑनलाइन ख़जाना महोत्सव में ग़ज़ल गायक पंकज उधास, अनूप जलोटा, तलत अजीज़, सुदीप बैनर्जी, महालक्ष्मी अय्यर, पंडित अजय पोहणकर व अभिजीत पोहणकर, पूजा गायतोंडे, युवा गायिका स्नेहा शंकर, प्रतिभा सिंह बघेल और दीपक पंडित जैसी संगीत की जानी-मानी हस्तियां अपने सुरों का जलवा बिखेरेंगी. इसके अलावा, शो में समर्पण बैंड की ओर से सिंगर पृथ्वी गंधर्व और गायत्री अशोकन भी विशेष परफॉर्मेंस से इस शो की रौनक को बढ़ाएंगे. इस कार्यक्रम में ख़ज़ाना टैलेंट हंट के विजेताओं- झारखंड के चक्रधरपुर से रित्विका मुखर्जी और राजस्थान के जयपुर से अतुल राव को भी अपनी प्रतिभा को पेश करने का मौका दिया जाएगा.

यह आयोजन पिछले कुछ सालों से थेलेस्सेमिया और कैंसर के मरीज़ों के लिए फ़ंड जुटाने का कारगर और अनोखा माध्यम बन गया है. इस कंसर्ट की प्रस्तुति का ज़िम्मा ऑनलाइन पार्टनर हंगामा को सौंपी गयी है. इस आयोजन के ज़रिए दान में प्राप्त होनेवाली पूरी राशि थेलेस्सेमिया और कैंसर से पीड़ित मरीज़ों के इलाज के लिए ख़र्च की जाएगी. चूंकि लॉकडाउन के कड़े नियमों के चलते लाइव शो का आयोजन करना मुमकिन नहीं था, इसीलिए इस शो को भव्य तरीके से पहले ही रिकॉर्ड कर लिया गया है और इसे जल्द ही संगीत-प्रेमियों के बीच अनूठे ढंग से पेश किया जाएगा. इस ऑनलाइन शो को देखने के लिए दर्शकों को किसी तरह का कोई टिकट नहीं ख़रीदना होगा और इसे दु‌निया भर में कहीं भी देखा जा सकेगा. दर्शक शो के दौरान सीधे तौर पर अपने मन मुताबिक एक निश्चित रकम दान कर सकें, इसके लिए Ketto के साथ एक ख़ास साझेदारी की गयी है.

पैरेंट्स एसोसिएशन थेलेस्सेमिक यूनिट ट्रस्ट के अध्यक्ष पंकज उधास ने कहा कि कोविड-19 से उपजे हालात के दौरान लगे लॉकडाउन को देखते हुए कैंसर व थेलेस्सेमिया के शिकार मरीज़ों के इलाज के लिए फ़ंड जुटाने का  काम करनेवाली संस्थाएं – द कैंसर पेशंट्स एड एसोसिएशन और द पैरेंट्स एसोसिएशन थेलेस्सेमिक यूनिट ट्रस्ट (PATUT) ने इस साल वार्षिक फ़ंडरेज़र का ऑनलाइन आयोजन करने का फ़ैसला किया है.

मशहूर ग़ज़ल गायक पंकज उधास ने कहा,”इस मौके पर मैं सहायता के लिए आगे आये सभी कलाकारों, प्रायोजकों और संगीत-प्रेमियों का तहे दिल से शुक्रिया अदा करना चाहूंगा. मुझे उम्मीद है कि इस साल भी यह शो पिछली बार की तरह ही लोगों को काफ़ी पंसद आयेगा और ये शो फ़ंड जुटाने‌ के अपने मक़सद में कामयाब साबित होगा.”

वे आगे कहते हैं,”हर साल 10,000 बच्चे थेलेस्सेमिया मेजर जैसी गंभीर बीमारी के साथ पैदा होते हैं जो दुनिया भर में इस बीमारी से ग्रसित होनेवाले मरीज़ों का 10% फ़ीसदी है. इसके अलावा दु‌निया भर में थेलेस्सेमिया के 8 में से 1 कैरियर का संबंध भारत से है. पंकज उधास के नेतृत्व वाला PATUT थेलेमस्सेमिया का संपूर्ण हल मुहैया कराता है. इसमें जागरुकता फ़ैलाना, बीमारी का पता लगाना, दाताओं और ग्रहणकर्ताओं के बोन मैरो के मैचिंग के लिए टेस्ट कराना, 10 साल से कम उम्र के थेलेस्सेमिया मेजर वाले बच्चों के बोन मैरो ट्रांस्प्लांट को प्रायोजित करना और काउंसलिंग शामिल है. उल्लेखनीय है कि पिछले 5 सालों से PATUT ने अपना ध्यान 10 साल से कम उम्र के बच्चों के बोन मैरो ट्रांस्प्लांट (BMT) पर केंद्रित किया हुआ है. थेलेस्सेमिया मेजर, सिकल सेल एनेमिया और प्लास्टिक एनेमिया के मरीज़ों के लिए बोन मैरो ट्रांस्प्लांट एकमात्र उपाय है.

*ख़ज़ाना ग़ज़ल महोत्सव का मुफ़्त में लुत्फ़ उठाने के लिए लॉग इन करें:*

– हंगामा म्यूज़िक फ़ेसबुक पेज और ऐप

– हंगामा प्ले फ़ेसबुक पेज़ और ऐप 

– पंकज उधास ऑफ़िशियल फ़ेसबुक पेज

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

15 + thirteen =