खुशखबरी : 25 रचनाकारों का साझा काव्य संग्रह शीघ्र प्रकाश्य, अधिक जानकारी के लिए क्लिक करें

रचनाकारों के लिए खुशखबरी
हिंदी कविताओं का संग्रह
25 रचनाकारों का साझा काव्य संग्रह शीघ्र प्रकाश्य।
महोदय!
कोलकाता हिंदी न्यूज, अंजनी प्रकाशन के सहयोग से तीन संपादको के संपादन में 25 रचनाकारों का एक अनमोल साझा काव्य संग्रह प्रकाशित करने जा रहा है।
इस साझा काव्य संग्रह को लगभग 150 पृष्ठों में प्रकाशन किया जाएगा। जिसमें रचनाकारों से न्यूनतम सहयोग राशि ₹2500 (ढाई हजार मात्र) में भाग लेने के लिए सादर आमंत्रित किया जा रहा है।
हालांकि रचनाकार को ₹2500 मूल्य की 10 पुस्तकें निःशुल्क (250×10=2500) दे दी जायेगी।
पुस्तक में प्रत्येक रचनाकार की फोटो (B&W) समेत परिचय दिया जाएगा तथा उनकी 5 रचनाओं को जगह दी जाएगी।
देखा गया है अनेक नवोदित प्रतिभाओं द्वारा अनवरत कविताएं, गजल, शायरी, मुक्तक, दोहे आदि लिखे जाते हैैं परन्तु उचित प्रकाशन माध्यम नहीं मिल पाने के कारण अनेको नवोदित रचनाकारों को उनकी लेखनी का उचित प्रतिफल नहीं मिल पाता है साथ ही साहित्य के सुहृद पाठकों को उनकी रचनाओं का रसास्वादन करने का अवसर नहीं मिल पाता है। इसी तथ्य को ध्यान में रखते हुए कोलकाता हिंदी न्यूज पोर्टल व अंजनी प्रकाशन इस साझा काव्य संग्रह का प्रकाशन कर रहा है। जिसमें आप चाहे कुछ भी लिखते हो जैसे… कविता, गीत, नवगीत, गजल, नज्म, भजन, दोहा, मुक्ति, प्रेम, प्रेरणात्मक, देशभक्ति, स्त्री विमर्श, होली, वंसत, ग्रीष्म, बाल कविताएं लोरिया, धार्मिक गीत इत्यादि इस साझा काव्य संग्रह में प्रकाशनार्थ भेज सकते है।
*प्रकाशित रचनाओं पर किसी भी तरह की पारिश्रमिक देय नहीं हैं।
*पुस्तक में प्रकाशित प्रत्येक रचनाकार को 10 प्रति निःशुल्क उपलब्ध होगी।
*अच्छी गुणवत्ता की कागज, डिजिटल छपाई और पेपरबैक संस्करण होगा।
*पुस्तक ISBN के साथ होगा।
*पुस्तक का अधिकतम मूल्य ₹250 होगा।
*अतिरिक्त पुस्तक लेने पर सिर्फ रचनाकारों को ही अधिकतम मूल्य पर 50% की छूट दी जाएगी।
*पुस्तक का विमोचन समारोह भी किया जाएगा, इसमें सभी रचनाकार और उनके अतिथि आमंत्रित होंगे।
*संग्रह प्रकाशित होने के बाद इस पुस्तक को हम बिक्री के लिए आॅनलाइन अमेजन एवं फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध करवाएंगे, साथ ही ऑफलाइन बिक्री की भी व्यवस्था होगी।
देखा गया है कि प्रिन्ट माध्यम के पाठक और इंटरनेट के पाठक अलग-अलग होते हैं। आज भी 40 से 60 प्रतिशत लोग पुस्तक खरीदकर पढ़ने में रूचि रखते है। वे पुस्तक खरीदकर ही पढ़ते है, साथ ही लोग पुस्तकें इसलिए भी खरीदते हैं क्योंकि पुस्तकों को घर और पुस्तकालय आदि में संग्रह किया जा सकता है और जब चाहे जितनी बार चाहे उसे कहीं भी पढ़ा जा सकता है, तो आदरणीय आप अपनी किसी भी तरह कि पांच काव्य रचना जो आप समझते कि पाठकों की बीच आना चाहिए तो उसे प्रकाशनार्थ अवश्य भेजें। इसकी प्रकाशन तिथि सम्भवतः अप्रैल या मई 2021 होगी।
अतः शीघ्र अपनी रचनाएं हमे भेजें, आप जितनी जल्दी अपनी रचना भेजेंगे प्रकाशन की संभावना उतनी जल्दी होगी।
कृपया ध्यान दें कि इस साझा संग्रह में रचना प्रकाशित करने या न करने का अधिकार/ अंतिम निर्णय कोलकाता हिंदी न्यूज व अंजनी प्रकाशन के पास सुरक्षित है।
अपनी रचनाएं आज ही हमें भेजें!
आपकी रचना प्राप्त होते ही सात दिनों के अन्दर आपको रचना की स्वीकृति/अस्वीकृति की सूचना आपको फोन द्वारा प्रेषित कर दी जाएगी।
रचनाएं भेजने का तरीका
अपनी रचना हमें [email protected] पर मेल करें या व्हाट्सएप नंबर 9748841950 पर भेजें।
*रचनाओं के साथ निम्नलिखित जानकारी भेजना आवश्यक है।
1. आप अपनी 5 काव्य रचनाओं को जो आपकी दृष्टि में सबसे उत्तम हो भेजिए।
2. अपना पूरा पता, नाम की वर्तनी, मोबाइल नंबर सही लिखे।
3. अपना एक फोटो भी भेजें।
4. जन्म तिथि वर्ष सहित।
5. यदि कोई पुस्तक प्रकाशित हुई है तो पुस्तक व प्रकाशक के नाम दे सकते हैं।
6. पुरस्कार, सम्मान यदि मिले है तो उसका भी उल्लेख करें।
7. रचनाओं की टाइपिंग एकदम सादे तरीके से की जानी चाहिए, किसी भी तरह की फाॅमेंटिग जरूरी नहीं है।
8. रचनाएं भेजने से पूर्व सारी वर्तनी जाॅच लें।
9. रचना भेजने के साथ मौलिकता प्रमाण पत्र अवश्य भेजे, जिसमे रचना के अंत में केवल यह लिखे कि यह रचना मेरी मौलिक रचना है।
10. इस साझा संग्रह में रचनाकार को किसी भी तरह की पारिश्रमिक नहीं दी जायेगी, अत: उपरोक्त शर्ते मान्य हो तभी इस साझा संग्रह का हिस्सा बने या अपनी रचना प्रेषित करें।
कोलकाता हिंदी न्यूज
प्रकाशन सहयोगी
अंजनी प्रकाशन, कोलकाता – 743135
फोन/व्हाट्सएप : 9748841950, 8820127806
धन्यवाद
राज कुमार गुप्त
मुख्य उपसंपादक
कोलकाता हिंदी न्यूज (पोर्टल)
विशेष सूचना : यदि आप अपने अन्य प्रकाशकों द्वारा छापी गई पुस्तकों को भी ऑनलाइन बिक्री के लिए अमेजन या फ्लिपकार्ट पर देना चाहते हैं तो आप नंदलाल साव जी से 8820127806 नं. पर संपर्क कर सकते हैं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

8 + 18 =