Team India

लंदन। तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह (19 रन पर छह विकेट) की सर्वश्रेष्ठ और मोहम्मद शमी (31 रन पर तीन विकेट) की बेहतरीन गेंदबाजी तथा कप्तान रोहित शर्मा (नाबाद 76) के शानदार अर्धशतक से भारत ने इंग्लैंड को पहले वनडे में मंगलवार को एकतरफा अंदाज में 10 विकेट से पीटकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली। भारत ने 25.2 ओवर में इंग्लैंड को 110 रन पर ढेर कर दिया। यह वनडे क्रिकेट में भारत के विरुद्ध इंग्लैंड का सबसे कम स्कोर था। भारत ने आपने ओपनरों रोहित शर्मा और शिखर धवन के शानदार प्रदर्शन से 18.4 ओवर में बिना कोई विकेट खोये 114 रन बनाकर जीत अपने नाम की।

बुमराह ने करियर में दूसरी बार पारी में पांच विकेट लिए। इससे पहले उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन श्रीलंका के खिलाफ 27 रन पार पांच विकेट था। छोटे लक्ष्य का पीछा करते हुए रोहित आक्रामक अंदाज में खेले जबकि शिखर ने संयम के साथ बल्लेबाजी की। रोहित ने छक्का मारकर अपना 45वां अर्धशतक पूरा किया। यह पारी का उनका तीसरा छक्का था। इसके बाद रोहित ने इसी ओवर में चौका और छक्का लगाया। ब्राइडन कार्स के इस ओवर में 18 रन गए। दोनों ने 17.5 ओवर में 100 रन की साझेदारी पूरी की।

रोहित ने फिर पारी का अपना पांचवां छक्का मारने के साथ वनडे में 250 छक्के पूरे किये। रोहित 58 गेंदों में सात चौकों और पांच छक्कों की मदद से 76 रन बनाकर नाबाद रहे जबकि शिखर ने 54 गेंदों पर नाबाद 31 रन में चार चौके लगाए। 10 विकेटों से दमदार जीत दर्ज की भारत ने। मेज़बान टीम को पूरी तरह रौंद कर रख दिया रोहित शर्मा की टीम ने।जसप्रीत बुमराह के नेतृत्व में गेंदबाज़ों ने मैच को भारत की झोली में तो डाल ही दिया था लेकिन रोहित और गब्बर की जोड़ी ने सुनिश्चित किया कि टीम 20 ओवरों के भीतर ही इस छोटे लक्ष्य को हासिल कर ले।

तालमेल की कमी एक-दो बार दिखी लेकिन इस सलामी जोड़ी ने इंग्लैंड को विकेट लेने के आसपास भी आने का मौक़ा नहीं दिया। इस बड़ी जीत के साथ भारत ने तीन मैचों की वनडे सीरीज़ में 1-0 की बढ़त ले ली है। इससे पहले भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का सही फैसला किया। छह विकेट लेकर जसप्रीत बुमराह ओवल में मौजूद दर्शकों की तालियों और अभिवादन का लाभ लेते हुए पवेलियन जा रही भारतीय टीम का नेतृत्व कर रहे थे । 7.2 ओवर, 3 मेडन और 19 रनों के भीतर इंग्लैंड के छह बल्लेबाज़ों का शिकार करते हुए बुमराह ने इस मैच को भारत की झोली में डाल दिया।

टॉस जीतने के बाद रोहित शर्मा ने पहले गेंदबाज़ी करने का फ़ैसला किया था और बुमराह ने अपने पहले ही ओवर में दो विकेट लेकर पहला वार किया था। मोहम्मद शमी और प्रसिद्ध कृष्णा ने उनका बख़ूबी साथ निभाया और मेज़बान टीम को मात्र 110 रन बनाने दिए। इंग्लैंड का कोई भी बल्लेबाज़ 30 से अधिक रन नहीं बना पाया और चार बल्लेबाज़ तो अपना खाता तक नहीं खोल पाए। कप्तान जोस बटलर ने 32 गेंदों में सर्वाधिक 30 रन बनाये।

इंग्लैंड के आठ विकेट 68 रन पर गिर गए थे। लेकिन डेविड विली और ब्राइडन कार्स ने नौंवें विकेट के लिए 35 रन जोड़कर इंग्लैंड को 100 के पार पहुंचाया।बुमराह ने विली को बोल्ड कर इंग्लैंड को 110 रन पर समेट दिया। विली ने 21 रन बनाये। रीस टॉप्ली ने इंग्लैंड की पारी का एकमात्र छक्का मारा। 100 ओवर का मैच 44 ओवर में ही समाप्त ही गया। घातक गेंदबाजी के लिए बुमराह मैन ऑफ द मैच रहे।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven − two =