तारकेश कुमार ओझा, खड़गपुर । मेदिनीपुर के गर्व माने जाने वाले सुशील शिकारिया ने जंगलमहल को एक बार फिर गौरवान्वित होने का अवसर दिया है। क्योंकि प्राचीन ईस्ट बंगाल क्लब ने उन्हें अपनी क्रिकेट टीम का कोच नियुक्त किया है। कोलकाता के सदी पुराने “ईस्ट बंगाल क्लब” पहले ही अपनी स्थापना काल की गौरवशाली शताब्दी को पार कर चुका है और इतिहास में एक स्थान रखता है। इस क्लब की फुटबॉल टीम की विभिन्न उपलब्धियां भारतीय फुटबॉल के इतिहास में स्वर्ण अक्षरों में अंकित है।

लेकिन क्लब के अधिकारियों ने इस ऐतिहासिक क्लब की क्रिकेट टीम को मजबूत करने के लिए एक अभिनव पहल की है। नए सीजन में टीम को मजबूत करने के लिए उन्होंने सुशील शिकारिया को रेड येलो ब्रिगेड की क्रिकेट टीम का कोच नियुक्त किया है। बता दें कि सुशील शिकारिया स्पोर्टिंग क्लब मेदिनीपुर के मानद उपाध्यक्ष हैं। सदी पुराने ईस्ट बंगाल क्लब ने बंगाल क्रिकेट में एक जाना-पहचाना नाम संबरण बंदोपाध्याय को भी क्रिकेट टीम के लिए अपना “गुरु” नियुक्त किया।

क्लब के अधिकारियों ने आज ईस्ट बंगाल क्लब टेंट में एक संवाददाता सम्मेलन में नए कोचों और मेंटर्स के नामों की घोषणा की। कोलकाता के तीन क्लबों में से एक के कोच के रूप में चुने जाने वाले मेदिनीपुर शहर के पहले व्यक्ति के रूप में, मेदिनीपुर के गौरव सुशील शिकारिया ने एक विशेष मिसाल कायम की है और इसलिए स्वाभाविक रूप से मेदिनीपुर के खेल प्रेमियों में खुशी की लहर है। उल्लेखनीय है कि सुशील शिकारिया न सिर्फ मेदिनीपुर निवासी व काउंटी क्रिकेट के प्रशिक्षक हैं बल्कि वे लोकप्रिय फुटबॉल क्लब “मोहम्मडन स्पोर्टिंग क्लब” मेदिनीपुर के उपाध्यक्ष भी हैं।3acb820c-21f8-4fbd-9ddd-c2ec5f87781a

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

12 − 11 =