• ’रक्तदान ही सही मायने में सेकुलर कार्य है, जिसमे कोई नहीं जानता कि उसका रक्त किस जाति धर्म या संप्रदाय के व्यक्ति के काम आएगा : डॉ नंदकिशोर गर्ग

कोलकाता। महाराजा अग्रसेन टेक्निकल एजुकेशन सोसाइटी द्वारा रेडक्रॉस और रोटरी क्लब के सहयोग से “रक्तदान शिविर” का आयोजन किया गया। आयोजन में संसथान के राष्ट्रीय कैडेट कोर और राष्ट्रीय सेवा योजना के छात्रों की भी भागीदारी रही। इस अवसर पर मुख्य अतिथिें के रूप में संस्थान के संस्थापक अध्यक्ष डॉ नंदकिशोर गर्ग ने छात्रों को सम्बोधित करते हुए कहा कि रक्तदान ही सही मायने में सेकुलर कार्य है जिसमे कोई नहीं जानता कि उसका रक्त किस जाति धर्म या संप्रदाय के व्यक्ति के काम आएगा। उन्होंने छात्रों से अपनी समस्त ऊर्जा का प्रयोग करते हुए स्वयं को विकसित करने का आह्वान किया।छात्रों के उत्साह की उन्होंने सराहना की।

सोसाइटी के संयुक्त महासचिव सचिव मोहन गर्ग ने बताया की विगत १८ वर्षों से संसथान रक्तदान का आयोजन करता रहा है और दिल्ली में सर्वाधिक रक्तदान का रेकॉर्ड इस संस्थान को है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से गोविन्द मूंदरा,अध्यक्ष रोटरी क्लब दिल्ली, राजेश गुप्ता, अनु गुप्ता, विजय गुप्ता, किशन कुमार बीकानेर स्वीट वाले ने अपनी उपस्थिति और सहयोग से छात्रों को उत्साहित किया। उक्त कार्यक्रम में सोसाइटी की और से आनंद गुप्ता, रजनीश गुप्ता, निदेशक डॉ नीलम शर्मा, डॉ रवि गुप्ता, डॉ एस एस देसवाल, डॉ एम् एल गोयल, जयराम मणि त्रिपाठी, आदि उपस्थित रहें।

युवाओं में रक्तदान शिविर को लेकर काफी उत्साह नजर आया। रेडक्रॉस सोसाइटी की एक इकाई ने रक्त संग्रहण का कार्य किया। रक्तदान शिविर में कुल 331 यूनिट रक्त का संग्रहण किया गया। आयोजकों ने रक्तदाताओं को जूस पिलाया और पौष्टिक आहार दिये। रक्तदाताओं को आयोजक टीम ने सभी रक्तदाताओं को प्रशस्ति पत्र और फ्रेंच एस्सेंस की ओर से उपहार भेंट किए। कार्यक्रम के संयोजक हर्ष जोशी व डॉ उमेश पाठक,राकेश चौरसिया जनसंपर्क अधिकारी ने सभी रक्तदाताओं के प्रति आभार जताया। कार्यक्रम को सफल बनाने में महाराजा अग्रसेन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (MAIT)और महाराजा अग्रसेन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मैनेजमेंट स्टडीज(MAIMS) के फैकल्टी और छात्रों की महती भूमिका रही।

IMG-20220602-WA0007

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

14 + 3 =