कोलकाता के प्रेसिडेंसी यूनिवर्सिटी में छात्रों का हंगामा

कोलकाता। विश्वभारती विश्वविद्यालय से शुरू हुई छात्र आंदोलन की आग अब कोलकाता के प्रेसीडेंसी विश्वविद्यालय (Presidency University) पहुंच गयी है। छात्रावास खोलने की मांग को लेकर छात्र हंगामा कर रहे हैं और विश्वविद्यालय के डीन को पिछले 18 घंटे से बंधक बना रखा है। सोमवार को छात्रावास के आवासीय छात्रों ने विश्वविद्यालय परिसर में शाम 4 बजे से हिंदू छात्रावास और बालिका छात्रावास खोलने की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन शुरू किया था, जो मंगलवार की सुबह खबर लिखने से तक जारी है। छात्रों ने प्रेसिडेंसी विश्वविद्यालय के डीन अरुण कुमार मैती को उनके ही कार्यालय में घेर कर रखा है।

इससे विश्वविद्यालय का पठन-पाठन और कार्यालय के काम बुरी तरह से प्रभावित हुए हैं। प्रदर्शनकारी छात्रों ने शिकायत की है कि स्कूल-कॉलेज खुल गये हैं, छात्रावास बंद हैं। इससे छात्रों का काफी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। इसलिए छात्रावास खोलने की मांग को लेकर विवि परिसर में हंगामा किया। आंदोलनकारी छात्रों के मुताबिक जिले के छात्र क्लास शुरू होने के बाद यदि हॉस्टल नहीं खुलता है, तो कहां रहेंगे। प्रदर्शनकारी छात्रों ने आगे कहा कि जब तक छात्रों के लिए हिंदू और गर्ल्स हॉस्टल नहीं खोले जाते या कुलपति प्रेसीडेंसी विश्वविद्यालय के कॉलेज स्ट्रीट परिसर में आकर स्वयं छात्रों से बात करेंगे।

उनलोगों का आंदोलन जारी रहेगा। बता दें कि कोरोना की स्थिति के कारण स्कूल, कॉलेज और विश्वविद्यालय दो साल से अधिक समय से बंद थे। कक्षाओं से लेकर परीक्षा तक सब कुछ ऑनलाइन हो रहा था, हालांकि अब जब स्थिति कुछ सामान्य हुई है तो ऑफलाइन कक्षाएं शुरू हो गई हैं। नतीजतन, विभिन्न स्थानों के छात्रों ने विश्वविद्यालय के लिए जाना शुरू कर दिया है। ऐसे में विवि प्रशासन द्वारा छात्रावास नहीं खोलने से उन्हें परेशानी हो रही है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty + eleven =