कोलकाता। पश्चिम बंगाल में देश के सबसे आधुनिक मेट्रो कोच बनने जा रहा है। टीटागढ़ वैगन नामक कंपनी आधुनिक गुणवत्ता वाले मेट्रो कोच बनाएगी और इसे हुगली के उत्तरपाड़ा में बनाया जाएगा। यहीं पर इटली की तकनीक से भारत के पहले रेल लिंक का निर्माण शुरू होने वाला है जिससे उद्योग जगत को प्रोत्साहन मिलने की संभावना जताई जा रही है। राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी इस परियोजना के फायदों को लेकर काफी आशान्वित हैं और इस बात पर खुशी जता चुकि हैं कि इससे राज्य के युवाओं के लिये रोजगार के नये अवसर पैदा होंगे।

सूत्रों के अनुसार टीटागढ वैगन में बनने वाले कोच अति आधुनिक स्तर के होंगे। हर कोच एल्युमीनियम से बना होगा जो एक सामान्य मेट्रो कोच से करीब पांच टन हल्का वजन वाला है। यह कोच पर्यावरण के अनुकूल होगा। कंपनी सूत्रों के मुताबिक अगर इस कोच को लॉन्च किया जाता है तो बिजली की खपत काफी कम होगी। सब कुछ इतालवी तकनीक का उपयोग करके बनाया गया है। कोचों के अंदर काफी जगह होगी। एक बड़ी खिड़की होगी।

हैंडल सुविधाजनक ऊंचाई पर होगी। यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए कई उपाय किए जायेंगे। एहतियात के तौर पर एक एंटी-ड्रैग सिस्टम होगा जो दरवाजे में कुछ फंसे होने की स्थिति में ट्रेन को चलने नहीं देगा। कमरे के अंदर एक इंफ्रारेड फायर डिटेक्शन यूनिट भी होगा। यात्रियों की सीटें अधिक आरामदायक होंगी। व्हील चेयर रखने की सुविधा भी होगी। पूरे कोच में कई सीसी कैमरे रहेंगे।

जिससे मोटरमैन कमरे के हर कोने में नजर रखने में सक्षम होगा। टीटागढ़ वैगन के सीएमडी उमेश चौधरी ने बताया कि हम उत्तरपाड़ा फैक्ट्री में कई बदलाव ला रहे हैं। तकनीकी बदलाव लाए जा रहे हैं। वह काम शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बुधवार को कोच फैक्ट्री के नये हिस्से का उद्घाटन करने जा रही हैं।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 2 =