ऋण मुक्ति के सरल एवं चमत्कारिक उपाय

1. मंगल एवं शुक्रवार के दिन प्रातः काल में कच्चे आटे की लोई में गुड भरकर पानी में बहायें।

2. पीली कौड़ी और हार सिंगार की जड़ को रोली, अक्षत, पुष्प, धूप, दीप से पूजन करके धारण करें, या अपने पास रखें तो ऋण से मुक्ति प्राप्त होगी।

3. सफ़ेद कपड़े में पांच गुलाब के फूल, चांदी का टुकड़ा, चावल और गुड, सफ़ेद कपड़े में रखकर 11 माला गायत्री मन्त्र का जप करें इसके बाद मन में।मोनोकामना बोलते हुए बहते जल में प्रवाहित करें।

4. केले के पेड़ की जड़ में रोली, चावल, फूल और जल अर्पित करें और नवमी वाले दिन केले के पेड़ की थोड़ी सी जड़ तिजोरी में रखें कर्ज से मुक्ति होगी नवरात्रि में यह उपाय अधिक लाभदायी रहेगा।

5. मंगल एवं गुरुवार को कर्ज ना ले मंगल एवं गुरूवार को चुका सकते है।

6. कर्जे से मुक्ति प्राप्त करने के लिए व्यक्ति सफेद वस्त्र, लाल वस्त्र पहनें या लाल रूमाल साथ रखें। भोजन में शक्कर की जगह गुड़ का उपयोग करें गन्ने का रस माँ त्रिपुर सुंदरी को भोग लगा कर प्रसाद स्वरूप पिए धन लाभ होगा कर्ज में कमी आएगी।

7. किसी भी माह के शुक्ल पक्ष के प्रथम मंगलवार को शिवलिंग पर दूध व जल के बाद मसूर की दाल अर्पण करते हुये निम्न मंत्र बोले

“ॐ ऋणमुक्तेश्वर महादेवाय नम:” तो इसे ऋण, कर्जे से मुक्ति मिलती है।

8. मुक्ति के लिए ऋणमोचन मंगल स्तोत्र का पाठ करें मंगलवार से आरंभ कर प्रति दिन 21 पाठ 41 दिन तक करें।

9. कर्ज से मुक्ति पाने के लिए लाल मसूर की दाल का दान विषम संख्या में सर से 11 बार उतार कर दान करें।

10. घर के ईशान कोण को सदैव स्वच्छ व साफ रखें।

11. ऋणहर्ता गणेश स्तोत्र का शुक्लपक्ष के बुधवार से नित्य 11 पाठ 50 दिन तक करें।

12. बुधवार को सवा किलो मूंग उबालकर घी-शक्कर मिलाकर गाय को खिलाने से शीघ्र कर्ज से मुक्ति मिलती है।

13. घर की चौखट पर अभिमंत्रित काले घोड़े की नाल शनिवार के दिन लगाएं।

14. कार्यालय मे गाय के आगे खड़े होकर वंशी बजाते हुए भगवान श्रीकृष्ण का चित्र लगाने से आकस्मिक कर्जा नहीं चढता और दिए गए धन की डूबने की सम्भावना भी कम रहती है।

15. बुधवार को स्नान पूजा के बाद सर्वप्रथम गाय को हरा चारा खिलाये उसके बाद ही खुद कुछ ग्रहण करें तो उसे शीघ्र ही कर्जे से छुटकारा मिल जाता है।

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें
पंडित मनोज कृष्ण शास्त्री
9993874848

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × four =