सिलीगुड़ी। चाय बागान श्रमिकों की लंबे समय से चली आ रही मांगों को राज्य सरकार ने पूरा कर दिया है। जैसा कि सांसद अभिषेक बनर्जी ने वादा किया था, राज्य श्रम विभाग ने चाय बागान श्रमिकों को पहचान पत्र दिया है। राज्य के श्रम मंत्री मलाई घटक ने बुधवार को दार्जिलिंग जिले के सिलीगुड़ी महकमे के खोरीबाड़ी क्षेत्र में चाय बागान श्रमिकों को यह पहचान पत्र सौंपा। मालूम हो कि ये पहचान पत्र कल समारोह के दौरान डुआर्स के कई चाय बागानों में बांटे जाएंगे।

गौरतलब यह चाय बागान श्रमिक लंबे समय से बागानों में काम कर रहे हैं, लेकिन उनके पास सरकार से मान्यता प्राप्त किसी भी श्रमिक का पहचान पत्र नहीं था. श्रम विभाग ने इस बार चाय बागान श्रमिकों को भी मान्यता देने का एलान किया है। राज्य के श्रम मंत्री मलाई घटक ने कहा कि चाय बागान श्रमिकों को पहचान पत्र सौंपे गए हैं। साथ ही उत्तर बंगाल के चाय बागानों में जल्द ही 50 क्रेश और 20 स्वास्थ्य केंद्र खोलने की योजना बनाई गई है।

उन्होंने कहा टेंडर प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही काम शुरू होगा। मालूम हो कि चाय बागान क्षेत्र में चाय बागान में काम करने पर महिलाओं को अपने बच्चों को पालने में परेशानी होती है। उस समस्या के समाधान के लिए श्रम विभाग ने चाय बागानों में इस योजना को लागू करने की पहल की है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × four =