शोख़ चंचल हसीन अदाकारा कात्यायनी शर्मा 

काली दास पांडे, मुंबई । ज़ी टीवी पर प्रसारित धारावाहिक ‘दो सहेलियां किस्मत की कठपुतलियां’ में मीरा का किरदार और बालाजी के धारावाहिक ‘करम अपना अपना’ में मुख्य भूमिका निभाने के बाद शोख़ चंचल हसीन अदाकारा कात्यायनी शर्मा इन दिनों बॉलीवुड में चर्चा का विषय बनी हुई हैं। बचपन से ही अभिनय के प्रति रुचि रहने की वजह से अमृतसर (पंजाब) की गलियों से निकल कर दिल्ली पहुँची जहां इन्होंने टीचिंग और मॉडलिंग का काम किया। दिल्ली में बात बनता न देख कात्यायनी शर्मा ने मुम्बई को अपने फिल्मी करियर का केंद्र बिंदु बनाया।

मुंबई में इन्होंने कई शॉर्ट फिल्म, विज्ञापन, फिल्मों और धारावाहिको में काम किया। सावधान इंडिया और क्राइम पेट्रोल के कई भाग में इन्होंने काम किया है। इसके बाद इन्होंने साउथ की ओर अपना रुख किया। दक्षिण भारत में किस्मत ने इनका भरपूर साथ दिया और उन्हें कई दक्षिण भारतीय फिल्मों में काम करने का मौका मिला। फ़िल्म ‘ट्रैप’ में ब्रम्हा के साथ इन्हें काम करने का मौका मिला। यह फ़िल्म और इनका स्वयं के द्वारा निभाया किरदार इन्हें बेहद पसंद है। कात्यायनी ने तमिल फिल्म ‘पार्वतीपुरम’ में मुख्य भूमिका निभाया। जिसे हिंदी में डब किया गया और इस फ़िल्म का नाम ‘शिवशक्ति’ रखा गया। अभिनेता श्रीहरि के साथ इन्होंने फ़िल्म ‘शिवकेशव’ मुख्य भूमिका में काम किया।

फ़िल्म अभिनेत्री रश्मिका मंदना का अभिनय इन्हें पसंद है। अभिनेता में नागार्जुन, अल्लुअर्जुन इनके पसंदीदा अभिनेता है और भविष्य में इनके साथ काम करना इनकी ख्वाहिश है। अभिनेता गोविंद नामदेव का भी ये बहुत सम्मान करती है। अभिनय क्षेत्र में जब इनकी शुरुआत हुई तो गोविंद नामदेव के सानिध्य में अभिनय की बारीकियां सीखने का इन्हें मौका मिला। हिंदी फिल्म ‘कॉलेज कैम्पस’ और ‘लव क्रॉस’ में वह अपने अभिनय का जादू बिखेर चुकी है। अभिनय के क्षेत्र में कात्यायनी हर प्रकार का चैलेंजिंग किरदार निभाना चाहती है। कात्यायनी ने दो वेब सीरीज़ में भी अभिनय किया है। कोविड के कारण उनकी कई फिल्मों का निर्माण पूर्ण नहीं हो पाया था परंतु फ़िलवक्त उन सभी फिल्मों का निर्माण कार्य प्रगति की ओर अग्रसर है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

14 + eleven =