भीषण हुआ चक्रवात ‘असानी’, बंगाल में दिखने लगा असर, ओडिशा में अलर्ट जारी !

कोलकाता। बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना चक्रवाती तूफान ‘असानी’ आंध्र प्रदेश के काकीनाडा से लगभग 300 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में है और इसके मंगलवार को धीरे-धीरे कमजोर पड़ने की संभावना है। हालांकि, चक्रवात के कारण 105 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। चक्रवाती असानी की आहट के बीच चेन्नई हवाई अड्डे पर हैदराबाद, विशाखापत्तनम, जयपुर और मुंबई सहित 10 उड़ानें रद्द कर दी गई हैं। चक्रवात के कारण ओडिशा और पश्चिम बंगाल में सोमवार को भारी से मध्यम बारिश हुई।

मौसम विभाग के अनुसार, पश्चिम-मध्य और उससे सटी दक्षिण बंगाल की खाड़ी में समुद्र में हलचल तेज होने की संभावना है और मछुआरों को अगले कुछ दिनों तक क्षेत्र से दूर रहने को कहा गया है। तटीय क्षेत्रों और समुद्री समुद्र तटों में पर्यटन संबंधी गतिविधियों को 13 मई तक निलंबित रखने का सुझाव भी दिया गया है। ओडिशा के खुर्दा, गंजाम, पुरी, कटक और भद्रक आदि जिलों में दो से तीन बार बारिश हुई। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार, चक्रवात के कारण कोलकाता, हावड़ा, पुरबा मेदिनीपुर, उत्तर तथा दक्षिण 24 परगना और नादिया जिलों सहित पश्चिम बंगाल के दक्षिणी हिस्सों में गुरुवार तक भारी बारिश होने की संभावना है।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने कहा कि चक्रवात सोमवार को 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा था। वह पिछले छह घंटों के दौरान पांच किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पश्चिम- उत्तरपश्चिम की ओर बढ़ा और सुबह साढ़े पांच बजे वह काकीनाडा से 300 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में, विशाखापत्तनम (आंध्र प्रदेश) से 330 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पूर्व में, गोपालपुर (ओडिशा) से 510 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में और पुरी (ओडिशा) से 590 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में केंद्रित था। IMD चक्रवात पर नजर बनाए हुए है और इस संबंध में अभी तक 20 बुलेटिन जारी कर चुका है, ताकि स्थानीय प्रशासन को तूफान के बारे जानकारी और उससे निपटने के सुझाव दे पाए।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

one × 5 =