ठीक से काम नहीं कर रहे सौमित्र चटर्जी के गुर्दे, प्लेटलेट संख्या बढ़ाने के प्रयास

कोलकाता : फिलहाल जीवन रक्षक प्रणाली पर चल रहे प्रख्यात बंगाली अभिनेता सौमित्र चटर्जी की सेहत मंगलवार को और बिगड़ गई और उनकी प्लेटलेट संख्या बढ़ाने के प्रयास किये जा रहे हैं। जिस अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है वहां के एक वरिष्ठ चिकित्सक ने यह जानकारी दी। डॉक्टर ने कहा कि उनके शरीर में यूरिया और क्रिएटिन का स्तर सोमवार से बहुत बढ़ गया है और गुर्दा रोग विशेषज्ञ उन्हें गुर्दे बदलने संबंधी चिकित्सा सहायता देने के विकल्प पर विचार कर रहे हैं।

डॉक्टर ने कहा कि 85 वर्षीय अभिनेता का पिछले 22 दिन से इलाज चल रहा है और वह दूसरे स्तर के निमोनिया से ग्रस्त हैं। उन्होंने कहा, ‘‘चटर्जी मुश्किल से ही होश में आ रहे हैं। उनके शरीर में पानी की कमी का उपचार भी चल रहा है। उनकी किडनियां ठीक से काम नहीं कर रहीं। उनके शरीर में यूरिया और क्रिएटिन का स्तर बहुत बढ़ गया है और उन पर उपचार का असर नहीं हो रहा है। कुल मिलाकर उनकी हालत बिगड़ गयी है। वह निश्चित रूप से बहुत गंभीर हैं लेकिन हम उनकी हालत थोड़ी स्थिर कर पाए हैं।’’

डॉक्टर ने कहा, “हमारे गुर्दा रोग विशेषज्ञ यह तय करने की कोशिश कर रहे हैं कि गुर्दे प्रतिस्थापन संबंधी चिकित्सा सहायता उन्हें दी जा सकती है या नहीं। वह जीवन रक्षक प्रणाली पर हैं, उन्हें ऑक्सीजन दी जा रही है…।” उन्होंने कहा, “वयोवृद्ध अभिनेता की मानसिक स्थिति में कोई गिरावट नहीं आई है।” डॉक्टर उन्हें मंगलवार को खून चढ़ाने की योजना बना रहे हैं और उन्हें उम्मीद है कि इससे चटर्जी की सेहत में कुछ हद तक सुधार होगा।

उन्होंने कहा, “उनकी प्लेटलेट संख्या भी कल से गिर गई है। हमने संख्या बढ़ाने के लिये उन्हें दवाएं दी हैं। हम खून चढ़ाने की योजना बना रहे हैं, उम्मीद है इससे सेहत में सुधार होगा।” अभिनेता को कोरोना वायरस संक्रमित पाये जाने के बाद छह अक्टूबर को यहां अस्पताल में भर्ती कराया गया था। संक्रमण से उबरने के बाद उन्हें पिछले सप्ताह गैर-कोविड गहन आघात इकाई (आईटीयू) में लाया गया था।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

11 − three =