कोरोना संदिग्ध की मौत के बाद रणक्षेत्र बना सागर दत्ता मेडिकल काॅलेज व अस्पताल

फोटो, साभार : गूगल

कोलकाता : उत्तर 24 परगना के कमरहट्टी स्थित सागर दत्ता मेडिकल काॅलेज व अस्पताल में इलाजरत एक मरीज की मौत हो गई। इसके बाद पूरा अस्पताल रणक्षेत्र में तब्दील हो गया। मरीज की मौत से नाराज परीजनों ने जमकर अस्पताल में तोड़फोड़ की। घटना की खबर मिलते ही मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल को पहुंचना पड़ा। इसके बाद भी स्थिति नहीं ठीक हुई तो रैफ उतारना पड़ा।

प्राप्त जानकारी के अनुसार कुछ दिन पहले ही बुखार, सर्दी और सांस लेने में तकलीफ के कारण एक मरीज को भर्ती कराया गया था। मरीज के प्राथमिक लक्षणों को देखते हुए आइसोलेशन में रखकर उसका इलाज शुरू किया गया। इसके साथ ही कोरोना संक्रमण संदेह होने पर उसके रक्त नमूने को जांच के लिए भेजा गया था। ऐसे में शुक्रवार को मरीज की हालत बिगड़ने लगी।

कुछ देर बाद ही शुक्रवार सुबह उसकी मौत हो गई। मरीज की मौत की खबर सुनते हुए उसके परिजनों का गुस्सा फूंट पड़ा। इसके बाद वे इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए अस्पताल में तोड़फोड़ करने लगे। अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड समेत कई जगहों पर जमकर तोड़फोड़ की गई। घटना की खबर मिलने के बाद मौके पर भारी संख्या में पुलिस पहुंची।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मौके पर पुलिस के पहुंचने के बाद भी स्थिति नियंत्रित नहीं हुई। ऐसे में स्थिति को देखते हुए रैफ उतारना पड़ा। लम्बे समय के बाद स्थिति ठीक हुई। अस्पताल की तरफ से कहा गया है कि उक्त मरीज के रक्त नमूने को जांच के लिए भेजा गया है। किन्तु रिपोर्ट अभी नहीं आई है। इसके पहले ही उसकी मौत हो गई। मौत कैसे हुई इसका पता लगाया जा रहा है।

उधर सर्विस डाॅक्टर्स फोरम (एसडीएफ) ने घटना की कड़ी निंदा की है। घटना में शामिल दोषियों को कड़ी सजा देने की मांग की गई है। सर्विस डाॅक्टर्स फोरम के कोषाध्यक्ष डाॅ. स्वपन विश्वास ने घटना की निंदा करते हुए कहा कि इसकी जांच होने चाहिए। इस घटना में जो भी दोषी हो उसे कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen + 7 =