कोलकाता। पश्चिम बंगाल में विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रमुख सुकांत मजूमदार ने शनिवार को आरोप लगाया कि तृणमूल कांग्रेस ने राज्य में ‘अनौपचारिक आपातकाल’ लगा रखा है जहां भाजपा के लिए काम करना ‘अपराध से कम नहीं’ है। राष्ट्रीय ग्रन्थागार के सभागार में प्रदेश भर से आये सैंकड़ों पार्टी कायकर्ताओं को संबोधित करते हुए मजूमदार ने यह दावा भी किया कि राज्य में हाल का नगर निगम चुनाव महज एक पाखंड’ है और केवल भाजपा ने ही जबर्दस्त मुकाबला किया।

मजूमदार ने अपने भाषण में आरोप लगाया, ‘‘ बंगाल में अनौपचारिक आपातकाल है। जिस तरह, भाजपा का हिस्सा होने को लेकर किसी को निशाना बनाया जाता है, उसी तरह माकपा, कांग्रेस या किसी अन्य दल का हिस्सा होने पर व्यक्ति को निशाना नहीं बनाया जाता है।’’ उन्होंने दावा किया कि जब ‘‘उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं के साथ तृणमूल के गुंडों द्वारा मारपीट की जाती है या उनकी हत्या भी कर दी जाती है’’ तो पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी रहती है।

वह पार्टी की चिंतन बैठक में बोल रहे थे। वरिष्ठ भाजपा नेता और सांसद लॉकेट चटर्जी ने निगम चुनाव में पार्टी की हार और उसका मतप्रतिशत पिछले साल के विधानसभा चुनाव के 38 प्रतिशत से घटकर निगम चुनाव में 12.57 प्रतिशत हो जाने पर आत्ममंथन का आह्वान किया। मजूमदार ने दावा किया, ‘‘हम निश्चित ही इस स्थिति से बाहर आयेंगे क्योंकि हमें लोगों का विश्वास एवं भरोसा प्राप्त है लेकिन निगम एवं पंचायत चुनाव के नतीजे में वह सामने नहीं आया क्योंकि तृणमूल कांग्रेस ने प्रशासन एवं पुलिस के साथ मिलकर स्वतंत्र एवं निष्पक्ष चुनाव नहीं होने दिया।

आने वाले दिनों में यह बदलेगा।’’ उन्होंने कहा कि भाजपा इस बात का विस्तार से मूल्यांकन करेगी कि हाल में चुनाव कैसे कराये गये तथा वह और प्रभावी ढंग से तृणमूल का लोकतांत्रिक रूप से मुकाबला करने पर गौर करेगी। बता दें कि इस सप्ताह के प्रारंभ में हुए इस चुनाव में भाजपा 108 में एक भी नगर निगम पर अपना कब्जा नहीं जमा पायी और उसे कुल डाले गये मतों में महज 12.57 प्रतिशत वोट ही मिले। तृणमूल कांग्रेस ने भाजपा के आरापों पर कहा कि यह एक ऐसी पार्टी के ‘बेबुनियाद आरोप’ हैं, जिसे मतदाताओं का विश्वास नहीं प्राप्त है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × three =