कोलकाता । पर्यावरण संरक्षण के लिए श्रीसाहित्य द्वारा आनलाइन अखिल भारतीय कवि सम्मेलन आयोजित किया गया। आयोजक सह संचालक वरीय कवि श्रीराम राय के अनुसार यह आयोजन गर्मी से राहत के लिए आयोजित किया गया, जिसमें दर्जनों कवियों ने अपनी रचनाओं के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए प्रभात वर्मा (पटना) ने कवियों को बराबर समाज के लिए प्रेरक रचनाएं लिखते रहने को कहा। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए सुधीर श्रीवास्तव (गोंडा) पूरे समय उपस्थित रहते हुए कवियों का मनोबल बढ़ाया। मुख्य अतिथि के रूप में महोत्सव पुरुष सिद्धेश्वर विद्यार्थी, वरीय अधिवक्ता, औरंगाबाद और विशिष्ट अतिथि के रूप में डॉ. राकेश कुमार, कटिहार व मयूरहंड से उपस्थित आकाश कुमार सिंह ने पर्यावरण संरक्षण पर अपने विचार प्रस्तुत किए।

स्वागत अध्यक्ष के रूप में अरविंद अकेला, वरीय कवि (पटना) ने मधुर वाणी से अथितियो का स्वागत किया। इस अखिल भारतीय कवि सम्मेलन में देश के विभिन्न भागों से विद्वान रचनाकारों में कृष्णा सेन्दल तेजस्वी, रंजुला चंडालिया कुमुदिनी महाराष्ट्र, रामकुमार प्रजापति अलवर, राजेश तिवारी ‘मक्खन’ झांसी उप्र, डॉ. बी निर्मला, मैसूर, कर्नाटक, राम रतन श्रीवास “राधे राधे” बिलासपुर छत्तीसगढ़, डॉ. गीता पांडे अपराजिता रायबरेली उत्तर प्रदेश, निर्मल जैन ‘नीर’ ऋषभदेव उदयपुर, डॉ. दक्षा एच. निमावत ‘पृथा’, गांधीनगर (गुजारत), वीना आडवाणी तन्, विद्या शंकर अवस्थी पथिक कानपुर, ईश्वर चंद्र जायसवाल, मेंहदावल, संत कबीर नगर, सोनिया गाजियाबाद, ब्रजेन्द्र नारायण द्विवेदी शैलेश, कविता राय ग्वालियर।

संगीता श्रीवास्तव, वाराणसी, संजय श्रीवास्तव, पटना, मीना जैन दुष्यंत भोपाल, कवयित्री अन्नपूर्णा मालवीया सुभाषिनी  प्रयागराज, सच्चिदानंद तिवारी शलभ (लखनऊ), खेमराज साहू ‘राजन’ दुर्ग छत्तीसगढ़, श्वेता दूहन देशवाल मुरादाबाद, मधु भूतड़ा ‘अक्षरा’ जयपुर, अंशी कमल (श्रीनगर गढ़वाल), कलावती करवा षोडश कला, स्वाति  सरु जैसलमेरिया, आरती तिवारी सनत दिल्ली, प्रीति हर्ष नागपुर, डॉ. वत्सला (वाराणसी) आदि ने काव्य पाठ कर पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। संयोजक श्रीराम द्वारा आगत कवियों को काव्य पाठ के साथ ही आकर्षक सम्मान पत्र से सम्मानित किया गया।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 − three =