तारकेश कुमार ओझा खड़गपुर । रेलवे में स्टेशन मास्टरों की ओर से प्रस्तावित 31 मई का सामूहिक अवकाश फिलहाल स्थगित हो गया है। इससे महकमे के अधिकारी राहत की सांस ले रहे हैं। बता दें कि रात्रि कालीन भत्ता व रिक्त पदों पर बहाली समेत विभिन्न मांगों को लेकर स्टेशन मास्टरों ने आगामी 31 मई को सामूहिक अवकाश पर रहने की घोषणा की थी। इससे महकमे में हड़कंप मचा हुआ था क्योंकि इसका बुरा असर ट्रेन परिचालन पर पड़ना तय माना जा रहा था।

लेकिन ताजा जानकारी में एसोसिएशन की ओर से जारी विज्ञप्ति के मुताबिक, केंद्रीय उप श्रम आयुक्त नई दिल्ली के द्वारा हस्तक्षेप करने के कारण ऑल इंडिया स्टेशन मास्टर एसोसिएशन के द्वारा प्रस्तावित 31 मई 2022 का सामूहिक छुट्टी (हड़ताल) का प्रोग्राम किया स्थगित कर दिया है। केंद्रीय उप श्रम आयुक्त दिल्ली के द्वारा हमारे मामले में हस्तक्षेप करने के बाद केंद्रीय पदाधिकारी, जोनल पदाधिकारियों की एक ऑनलाइन CEC बैठक आयोजित की गई और सुलह के बारे में चर्चा की गई।

उप मुख्य श्रम आयुक्त (सी), दिल्ली, ने हमारे स्ट्राइक नोटिस के संबंध में हस्तक्षेप किया है। हमारी मांगों पर रेलवे प्रबंधन ने जवाब प्रस्तुत किया। त्रिपक्षीय चर्चा (एस्मा प्रतिनिधि, रेल प्रशासन एवं केंद्रीय श्रम आयुक्त दिल्ली) के दौरान डिप्टी सीएलसी ने दोनों पक्षों को सुना और हमारी पूरी मांगों को सुनने के बाद, डिप्टी सीएलसी ने एसोसिएशन से 26/5/22 को लिखित में हमारी मांगो का विवरण देने के लिए कहा और 30.05.2022 को विस्तृत चर्चा का आश्वासन दिया।

इस बीच, डिप्टी सीएलसी ने इस मुद्दे को निपटाने का आश्वासन दिया और एसोसिएशन से 31.05.2022 को प्रस्तावित स्ट्राइक को सार्वजनिक हित को ध्यान में रखते हुए स्थगित करने का अनुरोध किया। अगली त्रिपक्षीय वार्ता बैठक 30.05.2022 को उप सीएलसी के चैंबर में आयोजित की जाएगी। MOSR ने भी हस्तक्षेप किया और दिल्ली में एक बैठक आयोजित की गई है। डिप्टी सीएलसी (सी) के सकारात्मक दृष्टिकोण एवं पब्लिक हित को ध्यान में रखते हुए, एक्शन कमेटी, एस्मा ने 31 मई 2022 को निर्धारित हड़ताल पर रोक लगाने का निर्णय लिया है।

यदि 30 मई त्रिपक्षीय वार्ता से वांछित परिणाम नहीं मिलते हैं, तो हमारी एक्शन कमेटी की एक कम समयावधि वाली सूचना पर स्ट्राइक के साथ आगे बढ़ेंगे। 31.05.2022 को स्ट्राइक पर जाने का AISMA का निर्णय स्थगित कर दिया है। पूरे भारतवर्ष में लगभग 70 से 80% सामूहिक छुट्टी की प्रार्थना पत्र एकत्रित हो चुकी है और अपने-अपने मंडल में मंडल सचिव के पास उपलब्ध है वार्ता विफल होने पर पुनः अग्रिम कार्रवाई के लिए हम तैयार रहेंगे। यह जानकारी केंद्रीय अध्यक्ष धनंजय चंदातर्रे, महासचिव पी सुनील कुमार दक्षिण पूर्व रेलवे इकाई के महासचिव दिलीप कुमार की ओर से दी गई है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × 4 =