पुरुलिया : कांग्रेस पार्षद की हत्या मामले में पांच पुलिसकर्मी लाइन हाजिर

कोलकाता। बंगाल के पुरुलिया जिले के झालदा इलाके में कांग्रेस के नवनिर्वाचित पार्षद तपन कांदू की हत्या के आठ दिन बाद अब इस घटना के सिलसिले में राज्य प्रशासन ने पांच पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर कर दिया है। पिछले रविवार यानी 13 मार्च को कांग्रेस पार्षद की अज्ञात लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इधर, जिन पांच पुलिसकर्मियों को लाइन हाजिर किया गया है, वे सभी झालदा थाने में तैनात हैं। इनमें एक एएसआइ, दो कांस्टेबल और दो होम गार्ड के जवान हैं।

बता दें कि इससे पहले इस हत्याकांड के सिलसिले में जिला पुलिस ने गुरुवार को हत्यारे का स्केच जारी किया था। पुरुलिया के पुलिस अधीक्षक एस सेल्वा मुरुगन ने बताया था कि एक प्रत्यक्षदर्शी के बयान के आधार पर हत्यारे (सुपारी किलर) का स्केच बनाकर जारी किया गया। उन्होंने साथ ही हत्यारे को पकड़वाने में मदद व उसके बारे में सूचना देने वाले को एक बड़ा नकद इनाम दिए जाने की भी घोषणा की थी। हालांकि यह रकम कितनी होगी, उन्होंने इसके बारे में नहीं बताया था।

पुलिस का मानना है कि कांग्रेस पार्षद की हत्या में सुपारी किलर का इस्तेमाल किया गया था। हत्यारे किसी दूसरे राज्य से आए थे। उन्हें मोटी रकम दी गई थी। राज्य सीआइडी, जिला पुलिस के साथ मिलकर इस हत्याकांड की जांच कर रही है। दरअसल, जिस इलाके में यह घटना हुई, वह झारखंड से सटा हुआ है।

माना जा रहा है कि हत्यारे को वहीं से लाया गया था और घटना को अंजाम देने के बाद वे झारखंड भाग गए। पुरुलिया जिला पुलिस ने बुधवार को पार्षद की हत्या की जांच के लिए छह सदस्यीय विशेष जांच दल (एसआइटी) का गठन किया था। इससे पहले इस हत्या के सिलसिले में पुलिस ने पार्षद के चचेरे भाई दीपक कांदू को गिरफ्तार किया था।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 + 15 =