अमेरिका : अश्वेत व्यक्ति की मौत के विरोध में हिंसक प्रदर्शन, देखें तस्वीरे

फोटो, साभार : गूगल

मिनीपोलिस (अमेरिका) : मिनीपोलिस के उस श्वेत अधिकारी को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया और उस पर हत्या का आरोप लगाया जिसने अपने घुटने से अश्वेत जॉज फ्लॉयड के गले को दबाया था जिससे उसकी मौत हो गई। फ्लॉयड की मौत के बाद पूरे अमेरिका में हिंसक प्रदर्शन शुरू हो गए और प्रदर्शनकारियों ने कर्फ्यू का उल्लंघन किया।

मिनीपोलिस में प्रदर्शनकारियों ने कारों और औद्योगिक प्रतिष्ठानों में आग लगा दी और दुकानों में घुस गए, जिसके बाद उन पर काबू पाने के लिए अधिकारियों ने आंसू गैस के गोले दागे और रबड़ की गोलियां चलाई। प्रदर्शनकारियों ने एक पुलिस थाना फूंक दिया था।

पेंटागन ने शुक्रवार को एक दुर्लभ कदम उठाते हुए सेना को मिनीपोलिस में तैनाती के लिए तैयार करने का आदेश दिया है। इस आदेश की जानकारी रखने वाले तीन लोगों ने बताया कि नॉर्थ कैरोलिना में फोर्ट ब्रैग और न्यूयॉर्क में फोर्ट ड्रम के सैनिकों को आदेश दिया गया है कि अगर उन्हें बुलाया जाए तो वे चार घंटों के भीतर तैनाती के लिए तैयार रहें।

यह आदेश शुक्रवार को तब दिया गया जब राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने रक्षा मंत्री मार्क एस्पर को मिनीपोलिस में हालात को काबू करने में मदद के लिए सैन्य विकल्पों पर गौर करने के लिए कहा। प्रदर्शनकारियों ने शहर के कुछ हिस्सों में लूट और आगजनी की वारदात को अंजाम दिया। मिनीपोलिस में इस सप्ताह तब प्रदर्शन भड़क उठे जब एक वीडियो में पुलिस अधिकारी को घुटने से फ्लॉयड की गर्दन दबाते हुए देखा गया। फ्लॉयड की बाद में चोटों के कारण मौत हो गई।

श्वेत अधिकारी डेरेक चाउविन को गिरफ्तार कर लिया गया तथा उस पर शुक्रवार को थर्ड डिग्री हत्या और मानव वध का आरोप लगाया गया। अश्वेत फ्लॉयड को एक दुकान में नकली बिल का इस्तेमाल करने के संदेह में गिरफ्तार किया गया था। चाउविन के साथ ही उन तीन अन्य अधिकारियों को भी बर्खास्त कर दिया गया जो घटनास्थल पर मौजूद थे। हत्या का दोषी पाए जाने पर चाउविन को 12 साल से अधिक जेल की सजा भुगतनी पड़ सकती है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − 15 =