नीलांबर कोलकाता द्वारा रेणु की कहानी संवदिया पर फिल्म का निर्माण

आनंद गुप्ता : हिंदी के सुप्रसिद्ध कथाकार फणीश्वरनाथ रेणु का जन्मशताब्दी वर्ष पूरे देश में मनाया जा रहा है। रेणु और उनके लेखन को केंद्र में रखकर देशभर की साहित्यिक-सांस्कृतिक संस्थाओं द्वारा अनेक कार्यक्रमों का आयोजन हो रहा है। देश की प्रतिष्ठित साहित्यिक-सांस्कृतिक संस्था नीलांबर के वार्षिकोत्सव ‘लिटरेरिया’ का थीम था— ‘साहित्य का अंचल’ और इसके केंद्र में रहे रेणु जी और उनका लेखन। इस अवसर पर संस्था ने रेणु जी की बहुचर्चित कहानी संवदिया पर इसी नाम से फ़िल्म निर्माण भी शुरू कर दिया है। इससे पहले रेणु की कहानी ‘तीसरी कसम’ पर बासु भट्टाचार्य के निर्देशन में गीतकार शैलेंद्र ने फिल्म का निर्माण किया था। 2017 में उनकी कहानी ‘पंचलाइट’ पर ‘पंचलैट’ फिल्म का निर्माण कोलकाता के निर्देशक प्रेम मोदी ने किया था। इसी कड़ी में नीलांबर द्वारा निर्मित फिल्म ‘संवदिया’ को देखा जा सकता है। ज्ञातव्य हो कि इसके पहले इस संस्था ने वंदना राग की कहानी ‘क्रिसमस करोल’, चंदन पांडेय की कहानी ‘जमीन अपनी तो थी’, मन्नू भंडारी की कहानी ‘अनथाही गहराइयां’ विनोद कुमार शुक्ल की कहानी ‘गोष्ठी’ पर शॉर्ट फिल्में बनाई हैं जो खासी सराही गई हैं।

‘संवदिया’ में एक बिखरते संभ्रांत परिवार की बड़ी बहू के अभावग्रस्त जीवन और उनके उससे जूझने की विभिन्न मनोदशाओं को केन्द्र में रखा गया है। साथ ही एक गंवई संवदिया की संवेदना को भी इसमें व्यक्त करने की कोशिश की गई है। हाल ही में इस फिल्म के कई दृश्यों का फिल्मांकन रेणु के पैतृक गाँव सिमराहा एवं उसके आसपास के अंचलों में किया गया है। फिल्म के निर्देशक ऋतेश कुमार ने इस फिल्म के बारे में बात करते हुए बताया कि “हम कहानी को यथासंभव उसके समयकाल और परिवेश में चित्रित करने की कोशिश कर रहे हैं। यह कहानी 1962 में छपी थी। 2020 में 1960 के आसपास के समय को दिखाना अपने आप में एक बड़ी चुनौती है। कथा में जिस तरह से हवेली तथा अन्य स्थानों का जिक्र आया है, उन्हें देखना-दिखाना आसान नहीं और अगर हम कहानी को आज के समय में दिखाते हैं तो कहानी का वही प्रभाव नहीं रहेगा, वह मूर्खतापूर्ण भी लगेगा”। इस फिल्म के कलाकारों में मृणमोई विश्वास, दीपक ठाकुर, विमलेश त्रिपाठी, आशा पांडेय, पूनम सिंह एवं आदित्य प्रियदर्शी शामिल हैं। फिल्मांकन विशाल पांडेय का है। फ़िल्म का निर्माण नीलाम्बर ने किया है और इसमें सहयोग किया है निर्मला तोदी ने। फ़िल्म मैनेजिंग कार्यभार यतीश कुमार और मनोज झा ने संभाला है। यह फिल्म रेणु के आगामी जन्मदिवस पर 4 मार्च 2021 को रीलिज होगी।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

7 + seventeen =