कोलकाता। पश्चिम बंगाल विधानसभा अध्यक्ष बिमान बनर्जी के खिलाफ ‘असभ्य’ टिप्पणी करने के चलते शुक्रवार को नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी के खिलाफ विशेषाधिकारी प्रस्ताव लाया गया। इससे एक दिन पहले विधानसभा अध्यक्ष ने शुभेंदु अधिकारी समेत सात विधायकों का निलंबन आदेश वापस ले लिया था।भाजपा विधायक शुभेंदु अधिकारी ने विधायक मुकुल रॉय को अयोग्य ठहराए जाने के मामले पर अपने विचार रखने के दौरान कथित तौर पर विधानसभा अध्यक्ष के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की, जिसके बाद तृणमूल कांग्रेस विधायक पार्थ भौमिक ने अधिकारी के खिलाफ प्रस्ताव पेश किया।

इस महीने की शुरुआत में बनर्जी ने मुकुल रॉय को अयोग्य ठहराए जाने के संबंध में दी गई अर्जी को खारिज कर दिया था। भौमिक ने कहा, ‘‘अधिकारी द्वारा की गई टिप्पणी ना केवल असभ्य है बल्कि आसन का अपमान है। इसलिए, मैंने विशेषाधिकार प्रस्ताव पेश किया है। मुझे आशा है कि उनके खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी।’’ घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए भाजपा विधायक दल के मुख्य सचेतक मनोज टिग्गा ने कहा कि यह ‘‘विपक्ष की आवाज को दबाने’’ का एक प्रयास है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

16 − one =