यूक्रेन में फंसे छात्रों का दर्द : कीव में भारतीयों को ट्रेन पर चढ़ने की अनुमति नहीं

कीव। यूक्रेन में भारतीय दूतावास द्वारा सभी भारतीय नागरिकों को शहर छोड़ने के आदेश जारी किए जाने के कुछ घंटे बाद वोकजल रेलवे स्टेशन पर फंसी एक भारतीय छात्रा ने मंगलवार को एक वीडियो जारी किया। इस वीडियो में उसने कहा कि भारतीय छात्रों और अन्य विदेशी नागरिकों को ट्रेनों पर चढ़ने की अनुमति नहीं दी जा रही है। छात्रा अंश पंडिता ने वीडियो में कहा, “भारतीय दूतावास की सलाह के बाद भारतीय छात्र रेलवे स्टेशन पहुंचे, जहां स्टेशन पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने भारतीय और दूसरे देशों के नागरिकों को रोक लिया।

मैं आपको दिखा सकती हूं कि यहां कितनी भीड़ है और यहां धक्का-मुक्की हो रही है। हमने यहां तिरंगा भी लगा दिया है। यहां हर कोई डरा हुआ है। ” छात्रा ने कहा, “ हमें आशा है कि भारतीय दूतावास हमें बाहर निकाल लेगा, हम जल्द से जल्द अपने घरों को लौटना चाहते हैं। हम भारतीय दूतावास से अपील करते हैं कि वह हमें बाहर निकालें।

भारतीय नागरिक तुरंत राजधानी कीव छोड़ें : यूक्रेन में भारतीय दूतावास ने मंगलवार को सभी भारतीय नागरिकों और छात्र-छात्राओं को जल्द से जल्द राजधानी कीव छोड़ने को कहा है। भारतीय दूतावास ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट में लिखा है, “यूक्रेन की राजधानी कीव में रह रहे भारतीयों काे तुरंत वहां से निकलने की सलाह दी। दूतावास ने आज विद्यार्थियों सहित सभी भारतीय नागरिकों को तत्काल कीव छोड़ने के लिए कहा जा रहा है। उन्हें ट्रेन या यातायात के अन्य साधनों से यहां से निकलने की सलाह दी गयी है।” उल्लेखनीय है कि यूक्रेन और रूस के हमलों के बीच हजारों की संख्या में भारतीय फंसे वहां फंसे हुए हैं। गत 24 फरवरी को यूक्रेन पर रूसी सेना द्वारा आक्रमण शुरू करने के बाद पड़ोसी देशों से भारतीय नागरिकों को निकाला जा रहा है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × four =