नई दिल्ली। कांग्रेस नेता और सांसद राहुल गांधी ने अग्निपथ योजना को लेकर एकबार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है, “60,000 सैनिक हर साल रिटायर होते हैं, उनमें से सिर्फ़ 3000 को सरकारी नौकरी मिल रही है। चार साल के ठेके पर हज़ारों की संख्या में रिटायर होने वाले अग्निवीरों का भविष्य क्या होगा? प्रधानमंत्री की प्रयोगशाला के इस नए प्रयोग से देश की सुरक्षा और युवाओं का भविष्य दोनों ख़तरे में हैं।” बता दें कि राहुल गांधी इससे पहले भी अग्निपथ योजना को लेकर सरकार पर निशाना साधते रहे हैं।

इससे पहले राहुल गांधी ने लिखा था, “प्रधानमंत्री अपने ‘मित्रों’ को 50 साल के लिए देश के एयरपोर्ट देकर ‘दौलतवीर’ और युवाओं को सिर्फ़ चार साल के ठेके पर ‘अग्निवीर’ बना रहे हैं।” उन्होंने लिखा था, “बार-बार नौकरी की झूठी उम्मीद देकर, प्रधानमंत्री ने देश के युवाओं को बेरोज़गारी के ‘अग्निपथ’ पर चलने के लिए मजबूर किया है। आठ सालों में, 16 करोड़ नौकरियां देनी थीं मगर युवाओं को मिला सिर्फ़ पकोड़े तलने का ज्ञान। देश की इस हालत के ज़िम्मेदार केवल प्रधानमंत्री हैं।”

गाैरतलब है कि भारतीय वायु सेना में अग्निपथ योजना के तहत अग्निवीरों की भर्ती के लिए आज से परीक्षा शुरू हो गई है। देश के कई हिस्सों में ये परीक्षा आयोजित की जा रही है। ये परीक्षा 24-31 जुलाई तक देशभर के 250 सेंटर्स पर आयोजित हो रही है। इसमें देश से अग्निपथ योजना के तहत वायु सेना के 3500 पदों पर भर्ती की जाएगी। इस परीक्षा में सभी प्रश्न 12वीं स्तर के है। पहला सेट विज्ञान (भौतिकी, रसायन एवं गणित) का है, जो 60 मिनट का होगा। दूसरा अंग्रेजी का है, जो 45 मिनट का होगा। इसी तरह तीसरे सेट में रीजनिंग और जनरल अवेयरनेस की परीक्षा 85 मिनट की होगी।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × five =