कोलकाता, 20 जनवरी। राष्ट्रीय कवि संगम के प्रान्तीय अध्यक्ष डॉ. गिरिधर राय की अध्यक्षता में महाराणा प्रताप के पुण्यतिथि पर हुगली जिला इकाई द्वारा भव्य काव्यगोष्ठी का आयोजन किया गया। उक्त कार्यक्रम की शुरुआत संस्था की हुगली ज़िलाध्यक्षा रीमा पाण्डेय द्वारा मधुर सरस्वती वन्दना और स्वागत वक्तव्य से हुई। इस अवसर पर स्वामी विवेकानंद पर आयोजित हो रहे सप्ताहिक कार्यक्रम को ध्यान में रखते हुए हुगली जिला संरक्षक डॉ. राज कुमार चतुर्वेदी ने आध्यात्मिक परिवेश में स्वामी विवेकानन्द के सिद्धांतों एवँ उद्देश्यों के महत्व पर अप्रतिम चर्चा करते हुए इसके प्रचार – प्रसार का आह्वान किया। उक्त कार्यक्रम में मुख्य अतिथि पूर्व प्रधानाध्यापक राम पुकार सिंह ने राणा प्रताप को वीरता, पराक्रम, त्याग और देशभक्ति का प्रतीक बताया और युवाओं को प्रताप और विवेकानंद के आदर्शों पर चलने के लिये आह्वान किया।

उक्त अवसर पर आयोजित काव्य गोष्ठी में गुरुग्राम से अभय राज चतुर्वेदी, दिल्ली से ऑन्कोलॉजिस्ट डॉ. रुचिर टण्डन, भोपाल से भोजपुरी फ़िल्म कलाकार समर्थ चतुर्वेदी, स्वागता बसु, देवेश मिश्र, सुषमा राय पटेल, रामाकान्त सिन्हा, मोहन (सूर्य कान्त) चतुर्वेदी, डॉ. राजकुमार चतुर्वेदी, रीमा पाण्डेय, विष्णुप्रिया त्रिवेदी एवं “पुकार” गाजीपुरी ने अपनी – अपनी रचनाओं की ओजश्वी एवं प्रभावशाली प्रस्तुति से श्रोताओं को मन्त्र मुग्ध कर दिया। संस्था के प्रान्तीय अध्यक्ष डॉ. गिरिधर राय ने अपने अध्यक्षीय प्रतिवेदन और उम्दा काव्यपाठ से सभी का दिल जीत लिया। हुगली ज़िलामन्त्री मोहन (सूर्य कान्त) चतुर्वेदी द्वारा धन्यवाद ज्ञापन के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve + twelve =