कोलकाता। श्यामबाजार आदर्श माध्यमिक विद्यालय – कोलकाता के सभागार में राष्ट्रीय कवि संगम – उत्तर कोलकाता के जिलाध्यक्ष डॉ. अनिरुद्ध राय के संयोजन और प्रान्तीय अध्यक्ष डॉ. गिरिधर राय के मार्गदर्शन में होली के पूर्व संध्या पर रंगों से सराबोर मासिक कविगोष्ठी का आयोजन प्रान्तीय महामंत्री राम पुकार सिंह की अध्यक्षता में किया गया। समारोह के अध्यक्ष विद्यालय के प्रधानाध्यापक डॉ. अनिरुद्ध प्रसाद राय ने सभी रचनाकारों का उत्तरीय देकर स्वागत किया। कार्यक्रम का कुशल संचालन “पुकार” गाजुपुरी ने की। कार्यक्रम का श्री गणेश हिमाद्रि मिश्रा की माँ वीणा पाणिनि की भावपूर्ण – मधुर वंदना के साथ हुआ।

मानिन्द रचनाकारों ने होली को केन्द्रित कर के अपनी-अपनी श्रेष्ठ रचनाओं से होली का आनंदपूर्ण माहौल बना दिया। इन रचनाओं में – हीरा लाल जायसवाल की –“राजनीति में होली ने एक नया रुप रचाया है”, “पुकार” गाजीपुरी की – सब रंगों का ही रास दिखें यार होली में/मन में रहे खुमार मन में प्यार होली में”, चन्द्रिका प्रसाद पाण्डेय अनुरागी की –“हो गये चौधरी अधीर आज होली है/मंगुरआ गा रहा कबीर आज होली है”, हिमाद्रि मिश्रा की – ” न मारो पिचकारी/भीगत मोर सारी”,

” बृज होरी मातल मन मोहन/पहिर केसरिया रंगडे साड़ी”, जय प्रकाश पाण्डेय की — “मानव मन झूम उठा है/खुशियाँ हुई है अपरम्पार”, कामायनी संजय की — “ऱग डारों सवरिया रे”, सीमा सिंह की जोगीरा सारा रा रा रा, इस्लाम अख्तर, तौसिफ आरजू और शाहनवाज की गजलें और राजेन्द्र प्रसाद राय की धमाकेदार भोजपुरी होली और देवेश मिश्रा की ओज की कविता बेहद सराही गयी।

इस मौके पर मुख्य अतिथि प्रख्यात संपादक अनिल राय ने सभी रचनाकारों की रचनाओं की भूरि-भूरि प्रशंसा की। राष्ट्रीय कवि संगम – उत्तर कोलकाता के जिलाध्यक्ष डॉ. राय ने अपनी अध्यक्षीय वक्तव्य में सभी को होली की अनंत हार्दिक शुभकामनायें एवं अशेष बधाई दी और विश्व शान्ति की कामना की। इस मौके पर अनेक सुधिजन सहित विद्यालय के सभी शिक्षक – शिक्षिका, गैर शिक्षक और सैकड़ो छात्र उपस्थित थे। तत्पश्चात जय प्रकाश पाण्डेय ने धन्यवाद ज्ञापन कर यह अभूतपूर्व काव्य सम्मलेन सुसंपन्न किया।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × five =