कोलकाता । गजल मंच का ऑनलाइन 62 वाँ तरही मुशायरा बरेली के मशहूर गजलकार विनय सागर जायसवाल की सदारत में संपन्न हुआ। मुशायरे की खूबसूरत निजामत कामिनी रावल ने की। मेहमान ए खास रहीं सुनीता लुल्ला। अलका मित्तल लगातार शायरों की सूची की जानकारी देती रहीं। द्वारिका प्रसाद लहरें मौज, असीम आमगाँवी, राम शिरोमणि उपाध्याय पथिक, संजय शुक्ला मीत, ज्ञानुदास मानिकपुरी, ओम शंकर मिश्रा, नफीस परवेज, श्लेष चंद्राकर, रूपेंद्र गौर।

डॉ. देशबंधु मिश्रा, अजय जायसवाल, संतोष रज़ा, सुमित्रा कामडिया, रीमा पांडेय, राजेंद्र संतवानी, मधुशंखधर स्वतंत्र, रामनरेश गुप्ता सावन, अमिता गुप्ता, अलका मित्तल, कृष्ण कुमार दूबे, मनीषा नारायण, कामिनी रावल, सवीना वर्मा सवी, डॉ. सुनीता सिंह, पुष्पेंद्र अस्थाना, हीरालाल, डॉ. भागिया खामोश, राजश्री तिवारी कमर, सुनीता लुल्ला, विनय सागर जायसवाल आदि ने रचनाओं की प्रस्तुति देकर सभी की वाहवाही बटोरी। अंत में विनय सागर जायसवाल के सदारती खुत्बे से कार्यकम का समापन हुआ।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × five =