नई दिल्ली । राष्ट्रपति चुनाव को लेकर एनडीए उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू और विपक्षी दलों के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा द्वारा देशभर में चलाए जा रहे प्रचार अभियान के बीच अब उपराष्ट्रपति चुनाव को लेकर भी नामांकन प्रक्रिया शुरू हो गई है। उपराष्ट्रपति चुनाव को लेकर अधिसूचना जारी कर दी गई है। इसके तहत उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया मंगलवार यानी आज से ही शुरू हो जाएगी।

चुनाव आयोग द्वारा घोषित कार्यक्रम के अनुसार, उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए 19 जुलाई तक नामांकन पत्र दाखिल किए जा सकेंगे। नामांकन पत्रों की जांच 20 जुलाई तक होगी। नाम वापसी की आखिरी तारीख 22 जुलाई है। अगर उपराष्ट्रपति पद के लिए एक से ज्यादा उम्मीदवार मैदान में हुए तो 6 अगस्त को चुनाव होगा। 6 अगस्त को सुबह 10 बजे से लेकर शाम 5 बजे तक उपराष्ट्रपति पद के लिए मतदान होगा और नतीजों की घोषणा भी उसी दिन यानी 6 अगस्त को ही कर दी जाएगी।

उपराष्ट्रपति संसद के उच्च सदन, राज्यसभा के पदेन सभापति भी होते हैं, जो राज्य सभा की कार्यवाही का संचालन करते हैं, इसलिए संसदीय लोकतंत्र के अनुसार यह पद राजनीतिक रूप से काफी महत्वपूर्ण माना जाता है।इस पद के लिए चुनाव में लोकसभा और राज्यसभा, दोनों ही सदनों के सांसद वोट देने के पात्र होते हैं। प्रत्येक संसद सदस्य के मत का मूल्य समान होता है। दोनों सदनों के कुल सदस्यों की संख्या के आधार पर उपराष्ट्रपति चुनाव में भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन को स्पष्ट बहुमत हासिल है।

हालांकि सत्ता पक्ष और विपक्ष, दोनों की ही तरफ से उपराष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवारों के नाम का ऐलान नहीं किया गया है। भाजपा में उम्मीदवार के नाम पर विचार मंथन जारी है, वहीं विपक्षी दलों को मिलकर अभी यह तय करना है कि नंबर नहीं होने के बावजूद अपना उम्मीदवार खड़ा करके सांकेतिक चुनावी लड़ाई लड़ी जाए या देश के नए उपराष्ट्रपति को निर्विरोध निर्वाचित होने दिया जाए।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 1 =