राष्ट्रीय कवि संगम हुगली द्वारा कबीर जयन्ती एवं पर्यावरण दिवस की पूर्व संध्या पर काव्यगोष्ठी सम्पन्न

बालासोर रेल हादसे में मृत लोगों को राष्ट्रीय कवि संगम द्वारा विनम्र श्रद्धांजलि

कोलकाता। राष्ट्रीय कवि संगम हुगली ज़िला इकाई द्वारा सन्त कबीर दास जयंती एवं पर्यावरण दिवस की पूर्व संध्या पर गूगल मीट के माध्यम से काव्य सन्ध्या आयोजित की गयी। संस्था के प्रान्तीय अध्यक्ष डॉ. गिरिधर राय की अध्यक्षता में आयोजित काव्य संध्या का शुभारम्भ संस्था की हुगली ज़िला अध्यक्ष रीमा पाण्डेय द्वारा प्रस्तुत सरस्वती वन्दना से किया गया। तदुपरांत दुःखद बालासोर रेल हादसे में मृत लोगों की आत्मा की शान्ति हेतु दो मिनट का मौन धारण कर उपस्थित साहित्य प्रेमियों द्वारा दिवंगत आत्माओं की चिर शान्ति हेतु प्रार्थना एवं घायलों के शीघ्र स्वास्थ लाभ की कामना की गयी।

कार्यक्रम में आमंत्रित अतिथि संस्था की प्रान्तीय उपाध्यक्ष श्यामा सिंह, प्रांतीय महामंत्री रामपुकार सिंह उपस्थित रहे। सभी आगन्तुकों का स्वागत संस्था के हुगली ज़िला के सचिव सूर्य कान्त चतुर्वेदी ‘मोहन बैरागी’ द्वारा किया गया। रीमा पाण्डे द्वारा संत कबीर दास जी के दोहों द्वारा संचालित उक्त कार्यक्रम में अर्चना तिवारी, श्रीप्रकाश गुप्ता, कमलापति पाण्डे “निडर”, सूर्य कान्त चतुर्वेदी “मोहन बैरागी”, डॉ. राजकुमार चतुर्वेदी, रामपुकार सिंह, श्यामा सिंह तथा रीमा पाण्डेय, ने कबीर दास जी और पर्यावरण पर केन्द्रित अपनी प्रभावशाली एवं मनमोहक ओजस्वी रचनाओं से श्रोताओं का मन मोह लिया।

प्रान्तीय अध्यक्ष डॉ. गिरिधर राय द्वारा अध्यक्षीय प्रतिवेदन के साथ ‘ट्रेन हादसा’ कविता प्रस्तुत की गयी। राष्ट्रीय कवि संगम के हुगली ज़िला संरक्षक डॉ. राजकुमार चतुर्वेदी द्वारा धन्यवाद ज्ञापन के साथ कार्यक्रम समाप्ति की घोषणा की गयी।