कोलकाता में बिना जुलूस निकाले मनाया गया मुहर्रम

कोलकाता :  कोलकाता और उसके आसपास के इलाकों में शिया मुसलमानों ने कोविड-19 की स्थिति के मद्देनजर बिना जुलूस निकाले मुहर्रम मनाया। उन्होंने पैगंबर मोहम्मद के नवासे इमाम हुसैन की याद में प्रार्थना की और सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करते हुए छोटे-छोटे समूहों में एकत्रित हुए। शहर के प्रमुख शिया नेता सैयद मेहर अब्बास रिजवी ने बताया, “समुदाय के सदस्यों ने जुलूस नहीं निकालने के लिये उच्चतम न्यायालय द्वारा दिये गए आदेश का सम्मान किया और काले कपड़े पहनकर इमाम हुसैन की शहादत को याद किया और सादगी के साथ रस्मों का पालन किया।”

उन्होंने कहा कि पार्क सर्कस, राजाबाजार, किद्दरपोर, इकबालपुर, मोमिनपुर और मेटियाबुर्ज समेत किसी भी इलाके में मुहर्रम का जुलूस नहीं निकाला गया। ताजियों को शहर के उत्तरी बाहरी इलाके में कमरहाती के विभिन्न मुहल्लों में रखा गया था लेकिन इन्हें जुलूस में नहीं ले जाया गया। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने लोगों से शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील की थी। उन्होंने एक फेसबुक पोस्ट में कहा, “मुहर्रम के पाक मौके पर आइए शपथ लें कि हम एकजुट रहेंगे।”

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

six + 11 =