कोलकाता। पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव सांसद अभिषेक बनर्जी ने कहा है कि अगर उनकी पार्टी ने अपने दरवाजे खोल दिए तो राज्य में भाजपा साफ हो जाएगी। उन्होंने पूर्व मेदिनीपुर जिले के हल्दिया में शनिवार को तृणमूल नेताओं को ईडी और सीबीआई की ओर से बार-बार समन भेजने के लिए भी भाजपा की खिंचाई की। ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक ने कहा कि उनको ईडी जितनी बार बुलाएगा उतनी बार भाजपा का कोई न कोई नेता पार्टी छोड़ कर तृणमूल में शामिल होगा। ध्यान रहे कि बैरकपुर के भाजपा सांसद अर्जुन सिंह इसी सप्ताह तृणमूल कांग्रेस में दल-बल सहित लौट आए हैं। उनके विधायक पुत्र पवन सिंह भी जल्दी ही तृणमूल में शामिल होंगे।

अभिषेक ने नाम लिए बिना विधानसभा में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी की भी खिंचाई की और उन पर पूर्व मेदिनीपुर को दिल्ली के हाथों बेचने का आरोप लगाया। अभिषेक ने कहा कि जिले के एक नेता ने ईडी और सीबीआई से बचने के लिए पूर्व मेदिनीपुर को दिल्ली के हाथों बेच दिया है। अभिषेक ने कहा कि ईडी ने उनको दो-दो बार पूछताछ के लिए दिल्ली बुलाया और वे दोनों बार चुपचाप वहां गए थे।

उनका कहना था कि बंगाल का मामला है इसलिए पूछताछ भी बंगाल में ही होनी चाहिए। सांसद का कहना था कि बार-बार दिल्ली बुलाना बंगाल को घुटने टेकने पर मजबूर करने का प्रयास है लेकिन अगर हमने पार्टी के दरवाजे खोल दिए तो बंगाल में भाजपा साफ हो जाएगी। दीदी भाजपा को हरा कर तीसरा बार सत्ता में लौटी हैं। यह बात दिल्ली को याद रखनी चाहिए।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 + twenty =