संदेशपरक फिल्म ‘मेरे देश की धरती’

काली दास पाण्डेय, मुंबई । कार्निवल मोशन पिक्चर्स के बैनर तले बनी फिल्म ‘मेरे देश की धरती’ की चर्चा इन दिनों बॉलीवुड में खूब हो रही है। इसकी खास वजह यह है कि इस फिल्म में ग्रामीण क्षेत्र से युवाओं के पलायन, बेरोजगारी और किसानों की समस्याओं को बहुत ही कलात्मक ढंग से स्क्रीन पर चित्रित किया गया है। इस फिल्म का प्रमोशन शो अंधेरी (वेस्ट) मुम्बई के इनफिनिटी मॉल के परिसर स्थित पीवीआर स्क्रीन 3 में सम्पन्न होने के पश्चात यह फिल्म सिनेदर्शकों तक पहुँच चुकी है। दिव्येन्दु शर्मा, अनंत विधात, अनुप्रिया गोयनका, राजेश शर्मा, विजेंद्र काला व इनामुलहक स्टारर, निर्मात्री वैशाली सर्वांकर की फिल्म ‘मेरे देश की धरती’ का निर्देशन फ़राज़ हैदर ने किया है।

यह फ़िल्म दो इंजीनियरिंग के छात्रों पर बेस्ड है। बेरोजगारी को झेलते हुए संघर्षमय सफर तय करने के बाद खेती करने में और किसानों की समस्याओं को दूर करने में उनकी रुचि जाग जाती है। सिनेदर्शकों की टेस्ट को ध्यान में रखते हुए इस फिल्म की कथावस्तु में रोमांस, कॉमेडी और ट्रेजडी का भी समावेश किया गया है। बकौल निर्देशक फ़राज़ हैदर ‘मेरे देश की धरती’ न केवल समस्याओं और मुद्दों को उजागर करती है बल्कि समाधान भी बताती है। यह फिल्म ग्रामीण क्षेत्र के युवाओं में जागरूकता लाने के साथ साथ किसानों को शिक्षित भी करेगी।1f86df53-bb98-4727-a9b4-9b7b0d0cf038

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − 7 =