बंगाल के पीराकाटा में माओवादियों ने 7 दिनों का बुलाया बंद, खुफिया एजेंसियों ने जारी किया अलर्ट

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के जंगल महल इलाके में माओवादियों की गतिविधियों में लगातार इजाफा हो रहा है। बांकुड़ा-झारग्राम के बाद पश्चिम मिदनापुर के पीराकाटा में माओवादियों के पोस्टर बरामद हुए हैं। माओवादी पोस्टरों में सात दिनों के बंद का आह्वान का आह्वान करते हुए टीएमसी नेताओं को धमकी दी है। माओवादी पोस्टर में ‘खेला होबे’ के नारे लिखे जा रहे हैं। इससे पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है।माओवादियों के बढ़ते सक्रियता के मद्देनजर स्थानीय लोगों की चिंता बढ़ गई है। माओवादियों की बढ़ती सक्रियता के मद्देनजर खुफिया एजेंसियो ने अगाह किया और 15 दिनों के लिए अलर्ट जारी किया है।

खुफिया एजेंसियों को आशंका है कि इस दौरान माओवादी हमले हो सकते हैं। इसके मद्देनजर जंगल महल इलाके में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। बता दें कि माओवादियों ने पुराने अंदाज में पीराकाटा बाजार को 7 दिन के लिए बंद करने का आह्वान किया है। सुबह सात बजे पिराकाटा बाजार से एक धमकी भरा पोस्टर बरामद हुआ। घटना से क्षेत्र में हड़कंप मच गया है। पूर्वी जोनल परिषद की स्थायी समिति की यहां राज्य सचिवालय में बैठक हुई। बैठक में गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने खुफिया सूचना का हवाला देते हुए माओवादी गतिविधियों में अचानक वृद्धि की आशंका जताई और इन चारों राज्यों की पुलिस को सतर्क किया।

राज्य सचिवालय के एक अधिकारी ने कहा, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड और ओडिशा की पुलिस को अगले 15 दिनों के लिए संभावित माओवादी हमले के प्रति उच्च सतर्कता बरतने को कहा गया है। इस संबंध में केंद्रीय खुफिया एजेंसियों से सूचना प्राप्त हुई है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अगले 15 दिनों में चार राज्यों में माओवादी गतिविधियों में बढ़ोतरी की आशंका जताई है। इसके चलते गृह मंत्रालय ने संबंधित राज्यों को अलर्ट भी जारी किया है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + eighteen =