नंदीग्राम गोलीबारी में मारे गए किसानों को ममता बनर्जी ने किया याद

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 2007 में नंदीग्राम में भूमि अधिग्रहण विरोधी आंदोलन के दौरान पुलिस की गोलीबारी में मारे गए लोगों को सोमवार को याद किया और कहा कि उनकी सरकार उपज बढ़ाने के लिए किसानों को हर संभव मदद दे रही है। वर्ष 2007 में नंदीग्राम में भूमि अधिग्रहण विरोधी आंदोलन के दौरान आज ही के दिन पुलिस गोलीबारी में मारे गए लोगों की याद में, पश्चिम बंगाल में 14 मार्च को ‘कृषक दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। उन्होंने यह भी दावा किया कि पश्चिम बंगाल देश के प्रमुख कृषि उत्पादकों में से एक है और तृणमूल कांग्रेस के कार्यकाल में राज्य में किसानों की आय में तीन गुना से अधिक की वृद्धि हुई है।

बनर्जी ने ट्वीट कर लिखा कि 2007 में नंदीग्राम में भूमि अधिग्रहण विरोधी आंदोलन के दौरान पुलिस की गोलीबारी में मारे गए ग्रामीणों की याद में और देश तथा दुनिया भर के अन्य किसानों के समर्पण को सलाम करते हुए, हम हर साल 14 मार्च को ‘कृषक दिवस’ के तौर पर मनाते हैं।” तत्कालीन विपक्षी नेता के रूप में बनर्जी ने औद्योगीकरण के लिए नंदीग्राम और सिंगूर में कृषि योग्य भूमि के अधिग्रहण के विरोध में वाम मोर्चा सरकार के खिलाफ एक आंदोलन का नेतृत्व किया था।

बनर्जी ने कहा कि आज, पश्चिम बंगाल देश में कृषि उत्पादन में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले राज्यों में से एक है। हमारे किसानों की आय में तीन गुना से अधिक की वृद्धि हुई है। मेरे सभी किसान भाइयों और बहनों और उनके परिवार के सदस्यों को कृषक दिवस की शुभकामनाएं।

इसी बीच, एक अन्य ट्वीट में बनर्जी ने लंदन मेट्रो स्टेशन पर बंगाली भाषा में लगे एक ‘साइनेज’ पर कहा कि यह भाषा के महत्व को दर्शाता है। उन्होंने ट्वीट किया कि यह गर्व की बात है कि लंदन ट्यूब रेल ने व्हाइटचैपल स्टेशन पर बंगाली भाषा में ‘साइनेज’ लगाया है, जो 1000 साल पुरानी बंगाली भाषा के बढ़ते वैश्विक महत्व को दर्शाता है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

20 + 8 =