ममता ने व्हीलचेयर से प्रचार किया इसलिए बंगाल चुनाव जीता : आठवले

पणजी : पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने 2021 के पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में बहुमत हासिल करने में कामयाबी हासिल की, क्योंकि वह एक दुर्घटना का शिकार हुईं और उन्होंने व्हील चेयर से प्रचार किया। केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्य मंत्री रामदास आठवले ने यहां मंगलवार को यह बात कही। गोवा में मौजूद केंद्रीय राज्य मंत्री ने यह भी कहा कि पश्चिम बंगाल में 77 सीटें जीतकर, भाजपा बहुप्रचारित राज्य विधानसभा चुनाव नहीं हारी है और न ही बनर्जी चुनाव जीतने का दावा कर सकती हैं। आठवले ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में संवाददाताओं से कहा, “ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल में सफल हुईं।

पीएम और मैंने उन्हें बधाई दी। जो लोकतंत्र में विजयी होते हैं, उन्हें बधाई दी जानी चाहिए। उन्होंने एक बड़ी सफलता हासिल की। इसकी वजह है ममता बनर्जी का एक्सीडेंट, जब वह व्हील चेयर पर थीं। उसके बाद बीजेपी को 99 सीटों पर 500 से 1500-2000 वोटों के अंतर से हार का सामना करना पड़ा।” उन्होंने कहा, “भाजपा के कम सीटें जीतने का कारण यह है कि वहां वाममोर्चा और कांग्रेस को कोई वोट नहीं मिला। सभी का वोट ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी को गए और इसीलिए बीजेपी को कम वोट मिले। अन्यथा बीजेपी 180-190 सीटें जीत जाती। भाजपा के पास अब 77 सीटें हैं।

मुझे लगता है कि यह भाजपा की हार नहीं थी और न ही यह ममता की जीत थी।” आठवले ने गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत और राज्य भाजपा अध्यक्ष सदानंद शेत तनवड़े से मुलाकात की और बाद में 2022 के चुनावों के लिए सत्तारूढ़ पार्टी को रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आरपीआई) के समर्थन की घोषणा की, जिसके वे राष्ट्रीय स्तर पर प्रमुख हैं। उन्होंने कहा, “पंजाब, उत्तराखंड, मणिपुर में, आरपीआई भाजपा के साथ गठबंधन करेगी। गोवा में, आरपीआई एक भी उम्मीदवार नहीं उतारेगी और सभी 40 सीटों पर भाजपा का समर्थन करेगी। मेरी पार्टी की राज्य समिति ने यह निर्णय लिया है। भाजपा को यहां सत्ता में आना चाहिए और आरपीआई तहे दिल से भाजपा के साथ रहेगी।”

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × four =