बंगाल ग्लोबल बिजनेस समिट में ममता बनर्जी ने लॉन्च किया ‘लक्ष्मी भंडार’ का नया विस्तारित संस्करण

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को ‘लक्ष्मी भंडार’ नामक परिवारों की महिला मुखियाओं के लिए राज्य के बुनियादी आय सहायता कार्यक्रम के विस्तारित संस्करण का शुभारंभ किया, जो अब से 5 लाख और परिवारों को कवर करेगा। सीएम ममता बनर्जी ने बुधवार को बंगाल ग्लोबल बिजनेस समिट (BGBS 2022) के अवसर पर यह ऐलान किया. इस अवसर पर राज्यपाल जगदीप धनखड़ से लेकर सीएम ममता बनर्जी ने राज्य में निवेश का आह्वान किया. वहीं, अदानी समूह के चेयरमैन गौतम अदानी (Gautam Adani) ने राज्य में 10 हजार करोड़ रुपए का निवेश करने का ऐलान किया।

इससे 25 हजार लोगों का प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार मिलेगा। विश्वस्तरीय ग्रीन एनर्जी विकसित की जाएगी, वहीं, जिंदल समूह के चेयरमैन सज्जन जिंदल (Sajjan Jindal) ने पश्चिम बंगाल में 900 मेगावाट की पनबिजली परियोजना विकसित करने का वादा किया। इस समिट में 42 देश भाग ले रहे हैं। ममता बनर्जी ने कहा कि कोरोना महामारी के बाद पहली बार कहीं इतने बड़े स्तर पर बिजनेस समिट का आयोजन किया गया है।

बता दें कि पिछले साल शुरू की गई ‘लक्ष्मी भंडार’ योजना के तहत, राज्य सरकार अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति परिवारों की महिला प्रमुखों को प्रति माह 1,000 रुपये और सामान्य वर्ग से संबंधित लोगों को 500 रुपये प्रति माह प्रदान करती है। यह कार्यक्रम अब 1.55 करोड़ परिवारों को कवर करेगा।

इससे पहले राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने यह कहते हुए शिखर सम्मेलन का शुभारंभ किया कि राज्य में विकास की अपार संभावनाएं हैं। जगदीप धनखड़ ने कहा कि पश्चिम बंगाल “अवसरों की भूमि” था, जिसे अपनी पिछली सफलता की कहानी को दोहराने की जरूरत है। बंबई प्रांत के साथ बंगाल उस समय भारत के सबसे अधिक औद्योगीकृत प्रांत थे ”

वहीं, गौतम अदानी ने कहा कि बंगाल सब समय आकर्षित किया है। नदी और समुद्र के प्रति उनका प्यार है। अरब सागर से हमने अपनी यात्रा शुरू की थी। गोपाल कृष्ण गोखले ने कहा था कि बंगाल जो सोचता है  देश बाद में सोचता है। यह बहुत से मनीषियों की भूमि है। वह बंगाल की लोगों की आशा के अनुरूप निवेश करेंगे।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five − 3 =