ममता का आरोप, लॉकडाउन पर केंद्र सरकार दे रही विरोधाभासी बयान, मीटिंग में भी बोलने नहीं दिया

ममता बनर्जी, फोटो साभार- गूगल

कोलकाता : देश में कोरोना के कहर के साथ केंद्र और ममता का तकरार भी जारी है। इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  के साथ मुख्यमंत्रियों की मीटिंग के बाद पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी  ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है। ममता बनर्जी ने कहा है कि केंद्र सरकार  विरोधाभास वाले बयान दे रही है।

एक तरफ केंद्र सरकार कहती है कि लॉकडाउन का सख्ती से पालन किया जाए, दूसरी तरफ वह दुकानें खोलने का आदेश देती है। अगर आप दुकानें खोल देंगे तो लॉकडाउन का पालन कैसे होगा? ममता ने यह भी कहा कि पीएम मोदी की मीटिंग में कई मुख्यमंत्रियों को बोलने का मौका ही नहीं दिया गया। बता दें कि हाल ही में गृह मंत्रालय ने दुकानें खोलने पर एक आदेश जारी किया था। बनर्जी ने कहा है कि गृह मंत्रालय के इस आदेश पर और अधिक स्पष्टता की जरूरत है।

अगर मुझे बोलने का मौका मिलता तो मैं कई मुद्दों पर सवाल पूछतीं। हम लॉकडाउन के समर्थन में हैं। होम क्वारंटाइन के बारे में ममता ने कहा कि अगर कोई शख्स कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है और उसके पास घर पर ही सुविधा है को वह खुद को होम क्वांरटाइन में रख सकता है। लाखों लोगों को क्वारंटाइन में नहीं रखा जा सकता है। सरकार की भी अपनी एक सीमा है। केंद्र सरकार अचानक सर्कुलर जारी जारी कर रही है। मुझे उससे कोई दिक्कत नहीं है लेकिन कुछ तो सलाह-मशविरा होना चाहिए। उन्हें राज्यों की स्थिति के बारे में भी पूछना चाहिए।’

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

ten + eleven =