मुंबई। बगावत का झंडा बुलंद करने वाले शिवसेना के कैबिनेट मंत्री एकनाथ शिंदे को 34 विधायकों का समर्थन हासिल है। यह दावा उनके समर्थक और राज्य मंत्री ओमप्रकाश बाबाराव कडू ने किया है। प्रहार जनशक्ति पार्टी (पीजेपी) के कडू ने कहा कि शिंदे का समर्थन करने वाले विधायकों की संख्या बढ़ रही है और यह 40 के भी पार हो सकती है। महाराष्ट्र का राजनीतिक ड्रामा गुजरात के सूरत से असम के पूर्वोत्तर राज्य में शिफ्ट हो रहा है। एक प्राइवेट मराठी चैनल से बात करते हुए कडू ने कहा, “शिंदे जो भी फैसला लेंगे वह हम सभी को स्वीकार्य होगा।”

कडू ने कहा कि उन्होंने शिवसेना को नहीं छोड़ा और न ही पार्टी के खिलाफ विद्रोह किया है। उन्होंने बताया कि शिंदे ने कहा है कि उनके साथ 40 विधायक है, जो सूरत से बुधवार तड़के गुवाहाटी के लिए रवाना हुए। हालांकि, शिवसेना और महा विकास अघाड़ी (एमवीए) ने इस मुद्दे और दावों पर टिप्पणी करने से इनकार करते हुए कहा कि कई विधायक जल्द ही पार्टी में लौट आएंगे। शिवसेना के मुख्य प्रवक्ता और सांसद संजय राउत ने कहा कि पार्टी की टीम मंगलवार को शिंदे से मिलने गई थी और उनकी बातें सुनी गई। उनके पास कुछ मुद्दे थे, जिनपर हम चर्चा करेंगे। हम हमेशा लड़े हैं और संघर्ष करते रहेंगे।

सियासी संकट के बीच गवर्नर कोश्यारी हुए कोरोना संक्रमित

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। संक्रमण की पुष्टि होने के बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। कोश्यारी को एच.एन.रिलायंस फ़ाउंडेशन अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है। एक ओर जहां महाराष्ट्र में राजनीतिक उथल-पुथल मची हुई है वहीं दूसरी ओर राज्यपाल कार्यालय से बयान जारी कर कहा गया है कि अभी तक यह तय नहीं है कि राज्यपाल को अतिरिक्त प्रभार दिया जाएगा या नहीं। शिवसेना के नेता एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में विधायकों का एक समूह सूरत से गुवाहाटी पहुंचा है। गुवाहाटी हवाई अड्डे पहुंचे एकनाथ शिंदे ने कहा, ”हमने शिवसेना नहीं छोड़ी है, हम नहीं जाएंगे। बालासाहेब ने देश को हिंदुत्व का आइडिया दिया, हम इससे कोई समझौता नहीं करेंगे।”

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 − ten =