लखनऊ । लखनऊ और उन्नाव में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यालयों को बम से उड़ाने की धमकी दिए जाने के कुछ घंटों बाद मंगलवार सुबह लखनऊ के मड़ियांव थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। लखनऊ पुलिस ने कहा, “लखनऊ और उन्नाव में आरएसएस कार्यालयों में बम की धमकी के संबंध में मड़ियांव थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। सोमवार रात को आरएसएस कार्यालयों को उड़ाने की धमकी वाला एक व्हाट्सएप संदेश भेजा गया था। इसकी मदद से साइबर सेल मैसेज भेजने वाले का पता लगा रही है।”

संघ के सदस्य नीलकंठ तिवारी को अंतरराष्ट्रीय नंबरों से संदेश हिंदी, अंग्रेजी और कन्नड़ में भेजे गए। यह धमकी नागपुर में तीसरे वर्ष के संघ शिक्षा वर्ग (अधिकारियों का प्रशिक्षण शिविर) के समापन समारोह में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के इस बयान के बाद दी गई है जिसमें उन्होंने कहा था, “हिंदुओं को यह महसूस करना चाहिए कि मुसलमान हमारे पूर्वजों के वंशज हैं और उनके खून के रिश्ते के भाई हैं। अगर वे वापस आना चाहते हैं, तो हम उनका खुले हाथों से स्वागत करेंगे। अगर वे वापस नहीं आते हैं, तो कोई बात नहीं। हमारे पास पहले से ही 33 करोड़ देवता हैं।”

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two × 5 =