कोरोना के साये के बीच कोलकाता इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल का आगाज

कोलकाता : कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच बंगाल सरकार ने कुछ पाबंदियों के साथ 7 जनवरी से 27वें कोलकाता अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव आयोजित करने का ऐलान किया है। मंगलवार को राज्य के सूचना और संस्कृति राज्य मंत्री इंद्रनील सेन और फिल्म निर्देशक अरिंदम शील ने यह घोषणा की। इंद्रनील सेन ने कहा कि फिल्म फेस्टिवल 7 जनवरी से 14 जनवरी तक चलेगा। उद्घाटन समारोह राज्य सचिवालय नबान्न में होगा। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी वर्चुअल माध्यम से इसकी शुरुआत करेंगी। इस बार 161 फिल्में दिखाई जाएंगी और कुल 200 शो आयोजित किए जाएंगे।

उद्घाटन फिल्म- ‘अरण्येर दिन-रात्रि’ (1970) होगी। इसे रवीन्द्र सदन में प्रदर्शित की जाएगी तथा 50 फीसदी सीटों पर ही दर्शकों की उपस्थिति सुनिश्चित की जाएगी। कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर ऐसा माना जा रहा था कि राज्य सरकार फिल्म फेस्टिवल रद्द कर देगी, लेकिन राज्य सरकार ने कोरोना पाबंदियों का पालन करते हुए सीमित संख्या में दर्शकों के साथ फिल्म फेस्टिवल आयोजित करने का ऐलान किया है।

इस मौके पर अरिंदम शील ने कहा कि कोविड नियमों के अनुसार फिल्म फेस्टिवल होगा। इस वर्ष सत्यजीत रे की 100वीं वर्षगांठ है, इसलिए यह फिल्म महोत्सव भी श्रद्धांजलि देगा। फोकस कंट्री फिनलैंड होगा। उन्होंने कहा कि हमने सत्यजीत रे के समय से 27 कलाकारों को आमंत्रित किया है। अब तक 13 लोगों ने अपनी उपस्थिति की पुष्टि की है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + ten =