खड़गपुर नगरपालिका चुनाव 2022 : हावी रहे बम, बंदूक और बदमाश

तारकेश कुमार ओझा, खड़गपुर । 107 अन्य पालिकाओं समेत खड़गपुर नगरपालिका का चुनाव रविवार को कई मायनों में अप्रत्याशित रहा। पुलिस प्रशासन के दावों के विपरीत बम, बंदूक और बदमाश पूरे चुनावी परिदृश्य पर हावी रहे। पुलिस के सामने अराजक तत्वों के दुस्साहस से लोग सहम उठे। सुबह शहर के कुल 35 वार्डों में मतदान शांतिपूर्ण तरीके से शुरू हुआ। दिन चढ़ने के साथ वार्ड 33, 22 और 17 समेत कई वार्डों से नियमों के खिलाफ कार्रवाई, डराने-धमकाने और छप्पा वोट की शिकायतें आने लगी। लेकिन आतंक का नंगा नाच देखा गया वार्ड 9 के भगवानपुर में। विरोधियों के मुताबिक वार्ड स्थित दोनों मतदान केंद्रों में चेहरे पर नकाब लगा कर पहुंचे बदमाशों ने बम और बंदूक लहराते हुए बूथ लूटने की कोशिश की। चुनाव अधिकारी और पुलिस के सामने ही बदमाशों ने मारपीट शुरू कर दी। इसे लेकर शासक दल टीएमसी और विरोधी दलों के नेताओं व कार्यकर्ताओं के बीच कहासुनी और हाथापाई देर तक होती रही। सूचना पर पहुंची पुलिस ने बड़ी मुश्किल से स्थिति को नियंत्रित किया।

गुंडागर्दी से विचलित भाजपा उम्मीदवार सुरेश पांडेय वार्ड 9 के जनता विद्यालय स्थित मतदान केंद्र के बाहर कुछ देर धरना देते हुए इसे लोकतंत्र पर प्रहार करार दिया। उन्होंने कहा “दोपहर 2 बजे तक सब कुछ ठीक चल रहा था, लेकिन इसके बाद अज्ञात बदमाशों ने मतदान केंद्र को कब्जे में लेने की कोशिश करते हुए हिंसक और अराजक कार्रवाई शुरू कर दी। जनता का आभारी हूं जिनके सहयोग के चलते बदमाशों को उलटे पांव लौट जाना पड़ा। हिंसा और गड़बड़ी की सूचना पर जनता विद्यालय पहुंची वार्ड 16 की कांग्रेस उम्मीदवार बी, कलावती ने कहा “मतदान केंद्र में तनाव की जानकारी मिलने पर वो यहां आई थी। विरोध जताने पर पुलिस के सामने ही एक बदमाश ने बदतमीजी करते मुझे धक्का दे दिया। दूसरी ओर टीएमसी की ओर से कहा गया कि बुरी हार की आशंका के बाद विरोधियों ने गड़बड़ी फैलाई। शहर के दूसरे वार्डों से भी अराजक व हिंसक घटनाओं की शिकायतें लगातार मिल रही थी।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × five =