कोझिकोड हादसा : विमान का ब्लैक बॉक्स बरामद, मृतक संख्या बढ़कर 18 हुई

प्रतीकात्मक फोटो, साभार : गूगल

कोझिकोड (केरल) : कोझिकोड हवाईअड्डे पर दुर्घटनाग्रस्त हुए एअर इंडिया एक्सप्रेस विमान का ब्लैक बॉक्स मिल गया है, जिससे इस बात का पता लगाने से मदद मिल सकती है कि विमान हवाईअड्डे से कैसे फिसला। इस हादसे में घायल हुए एक और व्यक्ति की मौत हो जाने के बाद मृतक संख्या शनिवार को बढ़कर 18 हो गई। इस बीच, हादसे में मारे गए एक यात्री के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद स्थिति और विकट हो गई है।

राज्य की स्वास्थ्य मंत्री के. के. शैलजा ने बचाव अभियान में जुटे सभी लोगों से एहतियान पृथक-वास में रहने और अपनी जांच कराने को कहा है। दुबई से 190 लोगों के साथ आ रहा एअर इंडिया एक्सप्रेस का एक विमान शुक्रवार शाम सात बजकर 40 मिनट पर भारी बारिश के बीच कोझिकोड हवाईअड्डे पर उतरने के दौरान हवाईपट्टी से फिसलने के बाद 35 फुट गहरी खाई में जा गिरा था और उसके दो टुकड़े हो गए थे।

दुर्घटना के कारणों की जांच की जा रही है और विमानन कंपनी एवं विमानन नियामक डीजीसीए के शीर्ष अधिकारी यहां पहुंच रहे हे। नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी भी विमान दुर्घटना के बाद की स्थिति एवं राहत कार्यों का जायजा लेने कोझिकोड पहुंचे। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह “नागर विमानन के वरिष्ठ अधिकारियों और पेशेवरों” के साथ विचार-विमर्श करेंगे। पुरी ने ट्वीट किया, “दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान का डिजिटल फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर (डीएफडीआर) और कॉकपिट वॉयस रिकॉर्डर (सीवीआर) बरामद कर लिया गया है। एएआईबी (विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो) जांच कर रहा है।”

डीजीसीए के एक अधिकारी ने बताया कि ये उपकरण (डीएफडीआर और सीवीआर) विमान दुर्घटना जांच ब्यूरो के पास हैं और इन्हें आगे की जांच के लिए दिल्ली भेजा जाएगा। पुरी ने हादसे में मारे गए लोगों को 10-10 लाख रुपए, गंभीर रूप से घायल हुए लोगों को दो-दो लाख रुपए और मामूली रूप से घायल लोगों को 50-50 हजार रुपए की अंतरिम राहत दिए जाने की घोषणा की।

उन्होंने कहा कि यह मुआवजा उस राशि के अलावा दिया जाएगा, जो विभिन्न एजेंसियों, विमान के बीमा इत्यादि से मिल सकती है। हवाईअड्डा प्राधिकरण, डीजीसीए, एएआईबी और अन्य सभी एजेंसियां सहयोग कर रही हैं। दो ब्लैक बॉक्स मिल गए हैं। केरल सरकार ने मृतकों के परिजन को 10-10 लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन ने यहां उच्च स्तरीय बैठक के बाद संवाददाताओं से कहा कि करीब 18 लोगों की मौत हो गई और 149 का मलप्पुरम एवं कोझिकोड जिले के विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। बैठक में राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान ने भी हिस्सा लिया।

विजयन ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘राज्य सरकार ने मृतकों के परिजन को 10-10 लाख रुपये बतौर मुआवजा देने का निर्णय किया है। जिन लोगों का उपचार चल रहा है, उनके इलाज का खर्च राज्य सरकार उठाएगी।’’ मुख्यमंत्री ने बताया कि जिन 18 लोगों की मौत हुई है, उनमें 14 वयस्क हैं और चार बच्चे हैं। विजयन ने कहा, ‘‘14 वयस्कों में सात पुरुष और अन्य महिलाएं हैं।’’मलप्पुरम के जिलाधिकारी के. गोपालकृष्णन ने यहां संवाददाताओं को बताया कि हादसे में घायल हुए एक और यात्री की मौत हो गई है। इसके बाद हादसे में मारे गए लोगों की संख्या बढ़कर 18 हो गई है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

14 − 3 =