खड़गपुर : तीन दिवसीय जंगलमहल सफर पर पहुंची टीएमसी सुप्रीमो व मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अहंकारी टीएमसी नेताओं को साफ शब्दों में चेतावनी देते हुए कहा कि – मैं-मैं करने वाले नेताओं के लिए पार्टी में कोई जगह नहीं है। सबको साथ लेकर चलने की जरूरत है। नेता कार्यकर्ताओं के साथ समन्वय स्थापित करना सीख लें, अन्यथा बाहर का रास्ता दिखाने में एक सेकेंड का भी समय नहीं लगेगा। सफर के दूसरे दिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार को मेदिनीपुर में जनसभा को संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि कुछ नेता मैं-मैं करने की बीमारी से ग्रस्त हैं। उन्हें यह प्रवृत्ति छोड़नी होगी अन्यथा उन्हें संगठन से बाहर का रास्ता दिखा दिया जाएगा।

बता दें कि तीन दिवसीय जंगल महल सफर के पहले दिन मंगलवार को मेदनीपुर में हुई प्रशासनिक सभा में भी मुख्यमंत्री ने जिला परिषद अध्यक्ष व गडवेत्ता की विधायक उत्तरा सिंह हाजरा समेत कई नेताओं को लताड़ा था। उन्होंने यहां तक कहा कि अपना रवैया न बदलने पर पदाधिकारियों को पद से हटाने में भी कोई हिचक नहीं दिखाई जाएगी। मेदिनीपुर की जनसभा के बाद मुख्यमंत्री अपने काफिले के साथ झाड़ग्राम पहुंच गई। यहां भी उनकी प्रशासनिक सभा का कार्यक्रम प्रस्तावित है।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 − 14 =