भावाञ्जली और तिरंगा काव्य मंच की संयुक्त पेशकश बसंत की फुहार काव्य गोष्टी

मन बसंती हो गया कानन बसंती हो गया:- मधु मधुमन

कोलकाता । भावांजलि और तिरंगा काव्य मंच द्वारा संयुक्त रूप से यूट्यूब पर बसन्त पंचमी के अवसर पर बसन्त की फुहार काव्य गोष्ठी का आयोजन डॉ. कुंवर वीर सिंह मार्तण्ड की अध्यक्षता में किया गया। इस गोष्ठी में देश विदेश के कवियों ने अपनी बेहतरीन प्रस्तुति देकर सबका मन जीता। अंजली गुप्ता का संचालन बहुत ही शानदार रहा। संयोजक कमल पुरोहित अपरिचित ने सभी कवि मित्रों से परिचय कराया। शम्भू लाल जालान निराला जी ने सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया।

काव्य पाठ करने वाले कविवृन्द दीपक सिंह, सीमा सिंह, पुनीता सिंह, शकुंतला शिंदे, चंचल हरेंद्र वशिष्ट, डॉ. सुभाष चन्द्र शुक्ल, डॉ. सुशील शर्मा, श्यामा सिंह, रामपुकार सिंह, रीमा पांडेय, चन्द्रिका पांडेय, शादाब अंजुम, ओम प्रकाश लटियाल, प्रवीण सक्सेना, नीता केसरी, मधु मोहिल, सुश्रुत पंत ज़र्रा, कमल पुरोहित, शम्भूलाल जालान निराला, मधु मधुमन, डॉ. कुँवर वीर सिंह मार्तण्ड, अंजली गुप्ता।

Shrestha Sharad Samman Awards

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × four =